• Hindi News
  • International
  • Coronavirus Impact On World's ।Economy Unemployment Rate In America At Record Level Of 80 Years, People Getting Unemployment Allowance One And A Half Times More Than Salary

द इकोनॉमिस्ट से:अमेरिका में बेरोजगारी दर 80 साल के रिकॉर्ड स्तर पर, लोगों को सैलरी से डेढ़ गुना ज्यादा भत्ता मिल रहा

वॉशिंगटन2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अमेरिकी श्रम विभाग के मुताबिक सरकार बेरोजगारों को 45 हजार रुपए भत्ता दे रही है, जबकि ज्यादातर लोगों की औसत मासिक सैलरी करीब 30 हजार रुपए है। -फाइल - Dainik Bhaskar
अमेरिकी श्रम विभाग के मुताबिक सरकार बेरोजगारों को 45 हजार रुपए भत्ता दे रही है, जबकि ज्यादातर लोगों की औसत मासिक सैलरी करीब 30 हजार रुपए है। -फाइल
  • अमेरिका में कोरोना संकट के कारण 3.86 करोड़ लोग बेरोजगारी भत्ते के लिए रजिस्ट्रेशन करा चुके
  • नॉर्वे में अस्थायी कर्मियों को 3.82 लाख रु का भत्ता, जबकि स्पेन में सभी कर्मचारियों को पूरा वेतन दिया जा रहा

कोरोना संकट की वजह से अमेरिका में बेरोजगारी दर 80 साल के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई है। करीब 3.86 करोड़ लोग बेरोजगारी भत्ते के लिए रजिस्ट्रेशन करवा चुके हैं। लोगों को जितनी सैलरी मिलती थी, उससे डेढ़ गुना ज्यादा भत्ता मिल रहा है। इससे बेरोजगारी भत्ता और बेरोजगारी बीमा जैसी सरकार की योजनाओं पर दबाव बढ़ गया है।

सैलरी से ज्याद भत्ता

अमेरिकी श्रम विभाग के मुताबिक सरकार बेरोजगारों को 45 हजार रुपए भत्ता दे रही है, जबकि ज्यादातर लोगों की औसत मासिक सैलरी करीब 30 हजार रुपए है। ज्यादा पैसा मिलने से अब लोग काम ही नहीं करना चाहते। ऐसे में सरकार ने कंपनियों से उन कर्मचारियों की रिपोर्ट मांगी है, जो बुलाने के बावजूद नौकरी पर नहीं आ रहे हैं। दरअसल, बेरोजगारी बीमा का उद्देश्य नौकरी से हुए नुकसान की भरपाई करना है, जब तक कि नया काम नहीं मिल जाता।

अमेरिका में बेरोजगारी दर 15 फीसदी के करीब 

अमेरिका में बेरोजगारी दर कोरोना संकट के बाद 14.7% पर पहुंच गई। ये बेहद ज्यादा है। अमेरिका में कोरोना के अब तक 17,06,277 मामले आए हैं। 1 लाख से ज्यादा मौतें हुई हैं। 

दुनिया: नॉर्वे 3.82 लाख, कनाडा 1 लाख तक दे रहा

  • नॉर्वे: अस्थायी कर्मियों को 3.82 लाख रु का भत्ता। यहां 8,374 मामले आए हैं। 235 मौतें हुई हैं।
  • स्पेन: सभी कर्मियों को पूरा वेतन और अस्थायी कामगारों को भत्ता देने का आदेश। यहां 2,82,480 केस आए हैं। 26,837 मौतें हुई।
  • फ्रांस: कर्मियों को सैलरी का 84% भत्ता, आम मजदूरों को 100% भत्ता देने का नियम है। यहां 1,82,942 केस आए हैं। 28,432 मौतें हुई हैं।
  • कनाडा: लॉकडाउन में बेरोजगार हुए लोगों को सरकार हर माह 1,09,500 रु. भत्ता दे रही है। यहां 85,998 मामले आए हैं। 6,566 मौतें हुई हैं।
  • ब्रिटेन: कंपनियां 2.33 लाख रु. से कम मासिक वेतन वाले कर्मियों को भुगतान के लिए 80% सरकारी फंड उपयोग कर सकती है। यहां 2,61,184 केस हैं। 36,914 मौतें हुई हैं।
  • ग्रीस: कर्मियों को 66,324 रु. मासिक भत्ता दे रहे हैं। यहां 2,892 मामले आए हैं। 173 मौतें हुई हैं।
  • जापान: सरकार ने सभी नागरिकों को 70,120 रु. दिए। जापान में 16,581 मामले आए हैं। 830 मौतें हुई हैं।

न्यूजीलैंड: जॉब खोने वालों को हर हफ्ते 17360 रु. भत्ता
न्यूजीलैंड में प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न ने मंगलवार को उन लोगों को हफ्ते में 17,360 रुपए भत्ता देने की घोषणा की है, जो लॉकडाउन के कारण रोजगार खो चुके हैं। सरकार ने 29 मई से लॉकडाउन में और अधिक ढील देने का फैसला किया है।

इसके तहत अधिकतम 100 लोग एक जगह जुट सकेंगे। अभी तक 10 लोगों को ही इसकी अनुमति थी। जेसिंडा ने कहा कि ये बदलाव कारोबार के लिए अच्छे साबित होंगे।

न्यूजीलैंड में कोरोना के 22 एक्टिव मरीज

सरकार ने बेरोजगारी दर 10 फीसदी से नीचे रखने के लिए ज्यादा पैसा अर्थव्यवस्था पर खर्च करने की योजना बनाई है। न्यूजीलैंड में कोरोना के सिर्फ 22 एक्विट मरीज हैं। इनमें से सिर्फ एक ही अस्पताल में हैं। बाकी गंभीर नहीं होने के कारण घर में हैं। यहां अब तक 1504 मामले आए हैं। 21 मौतें हुई हैं।

खबरें और भी हैं...