• Hindi News
  • International
  • Dubai Expo 2020 News And Updates | Launch Of India Pavilion At Dubai Expo Narendra Modi Piyush Goyal

दुबई एक्सपो में भारत की मौजूदगी:पीयूष गोयल ने एक्सपो में भारतीय पवेलियन का उद्घाटन किया, PM मोदी बोले- यह भारत में निवेश का सबसे अच्छा वक्त

दुबई2 महीने पहले
केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को दुबई एक्सपो में भारतीय पवेलियन का उद्घाटन किया।

दुबई में दुनिया का सबसे बड़ा एक्सपो शुरू हो गया है। केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को इसमें भारतीय पवेलियन का उद्घाटन किया। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी अपना मैसेज शेयर किया। उन्होंने कहा कि यह भारत में निवेश करने का सबसे अच्छा समय है। भारत टैलेंट का पावर हाउस है। इस एक्सपो में भारत ने सबसे बड़ा पवेलियन बनाया है। मुझे यकीन है कि यह एक्सपो यूएई और दुबई के साथ हमारे गहरे और ऐतिहासिक संबंधों को और मजबूत करने में काफी मदद करेगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज का भारत दुनिया के सबसे खुले देशों में से एक है- सीखने के लिए खुला, नजरिए के लिए खुला, इनोवेशन के लिए खुला, निवेश के लिए खुला। मैं आपको हमारे देश में आने और निवेश करने के लिए आमंत्रित करता हूं। आज भारत अवसरों का देश है।

PM मोदी के मैसेज की खास बातें

  • एक्सपो 2020 की मेन थीम कनेक्टिंग माइंड्स, क्रिएटिंग द फ्यूचर है। इसकी भावना भारत के प्रयासों में भी दिखाई देती है, क्योंकि हम एक नया भारत बनाने के लिए आगे बढ़ते हैं।
  • भारत आजादी के 75वें साल को अमृत महोत्सव के तौर पर मना रहा है। हम सभी को भारतीय पवेलियन का दौरा करने और न्यू इंडिया में अवसरों का लाभ उठाने के लिए आमंत्रित करते हैं।
  • पिछले 7 साल में भारत सरकार ने आर्थिक विकास को बढ़ावा देने के लिए कई सुधार किए हैं। हम इस ट्रेंड को जारी रखने के लिए और ज्यादा कोशिश करते रहेंगे।
  • भारत अपनी जीवंतता और विविधता के लिए मशहूर है। हमारे पास अलग-अलग संस्कृतियां, भाषाएं, व्यंजन, कला, संगीत और नृत्य हैं। यह विविधता हमारे पवेलियन में झलकती है।
भारत के पवेलियन के मेन एंट्रेंस को स्वागत वाले अंदाज में तैयार किया गया है।
भारत के पवेलियन के मेन एंट्रेंस को स्वागत वाले अंदाज में तैयार किया गया है।

वहीं पीयूष गोयल ने कहा कि दुनिया का सबसे किफायती अंतरिक्ष मिशन शुरू करने से लेकर दुनिया की पहली डीएनए बेस्ड वैक्सीन बनाने तक, भारत अपनी क्षमताओं को दुनिया के सामने रख रहा है। सभी क्षेत्रों में सुधारों पर सवार होकर, भारत एक वैश्विक आर्थिक केंद्र के रूप में उभर रहा है। उन्होंने निवेशकों से कहा कि आइए एक साथ बढ़ें, एक साथ बदलें, एक साथ बदलाव लाएं।

पवेलियन में दिखेगी भारत की संस्कृति और तरक्की
6 महीने तक चलने वाले इस एक्सपो में भारत की संस्कृति और देश में हुए विकास को दिखाया जाएगा। इसमें आजादी के 75 साल पर हो रहे अमृत महोत्सव पर खास जोर रहेगा। एक्सपो में 180 देशों के पवेलियन बनाए गए हैं। भारत का पवेलियन बनाने में 500 करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं। एक्सपो में भारत से टाटा ग्रुप, रिलायंस, अडाणी, वेदांता, HSBC जैसी दिग्गज कंपनियां शामिल होंगी।

पवेलियन में भारत की ऐतिहासिक जगहों और संस्कृति को दिखाया गया है।
पवेलियन में भारत की ऐतिहासिक जगहों और संस्कृति को दिखाया गया है।

भारत के पवेलियन में 600 ब्लॉक्स बनाए गए
भारत के भव्य पवेलियन में 600 ब्लॉक्स बनाए गए हैं। ये हमेशा रोटेट करते हैं। ये इस बात को दिखाते हैं कि भारत तेजी से आगे बढ़ रहा है। पवेलियन के अंदर सांस्कृतिक रूप से समृद्ध भारत को दिखाने के साथ ही ये भी बताया गया है कि 5 ट्रिलियन इकोनॉमी के लिए भारत में निवेश की अपार सम्भावनाएं हैं। भारत के पवेलियन में एंट्री करते ही भारत की संस्कृति, ऐतिहासिक विरासत के दर्शन होंगे। साथ में इसका एहसास भी हो जाएगा कि भारत आधुनिक तकनीक के मामले में कितना समृद्ध है।

इंडियन पवेलियन को स्पेस, अर्बन ट्रेवल एंड कनेक्टिविटी समेत 11 थीम पर तैयार किया गया है
इंडियन पवेलियन को स्पेस, अर्बन ट्रेवल एंड कनेक्टिविटी समेत 11 थीम पर तैयार किया गया है

डियन पवेलियन 11 थीम पर तैयार
पूरे इंडियन पवेलियन को क्लाइमेट और बायोडायवर्सिटी, स्पेस, अर्बन ट्रेवल एंड कनेक्टिविटी, ग्लोबल गोल्स, हेल्थ और वेलनेस समेत 11 थीम पर तैयार किया गया है। जहां स्पेस टेक्नोलॉजी, रोबोटिक्स, इलेक्ट्रिक मोबिलिटी, ए़़डू टेक, ई-कॉमर्स, एनर्जी, साइबर सिक्योरिटी, हेल्थकेयर, स्टॉर्टअप्स, मेक इन इंडिया में निवेश की संभावनाएं बताई गई हैं।

पवेलियन के अंदर सांस्कृतिक रूप से समृद्ध भारत को दिखाने के साथ ही ये भी बताया गया है कि यहां कारोबार की अपार सम्भावनाएं हैं।
पवेलियन के अंदर सांस्कृतिक रूप से समृद्ध भारत को दिखाने के साथ ही ये भी बताया गया है कि यहां कारोबार की अपार सम्भावनाएं हैं।
खबरें और भी हैं...