पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

जॉनसन की पार्टी ने हिंदी में थीम सॉन्ग जारी किया, प्रत्याशी जलियांवाला बाग और अनुच्छेद 370 के नाम पर वोट मांग रहे

8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ब्रिटेन के प्रधानमंत्री और कंजरवेटिव पार्टी के नेता बोरिस जॉनसन 10 दिसंबर को नॉर्थ-वेस्ट इंग्लैंड के वॉरिंगटन में एक कंपनी में प्रचार करने पहुंचे।
  • कश्मीर मुद्दे पर दखल देने से लेबर पार्टी का विरोध, कंजरवेटिव पार्टी को हो सकता है फायदा
  • ब्रिटेन की 6 करोड़ की आबादी में से 2.5 प्रतिशत भारतीय, ब्रेडफर्ड इलाके में दबदबा

लंदन. गुरुवार को ब्रिटेन में आम चुनाव हैं। इस चुनाव में भारतीयों का भी खास ध्यान रखा जा रहा है। इसके लिए सत्तारूढ़ कंजरवेटिव पार्टी ने बाकायदा हिंदी में गाना लॉन्च किया है। ब्रिटेन की कुल आबादी करीब छह करोड़ है। इस आबादी में 2.5 % भारतीय हैं। ब्रेडफर्ड जैसे इलाकों में भारतीयों का खासा दबदबा है। इसलिए उन्हें अहम माना जा रहा है।


प्रधानमंत्री जॉनसन की कंजरवेटिव पार्टी के भारतीय उम्मीदवार और पूर्व सांसद शैलेष वारा ने वीडियो ट्वीट किया है। इसमें हिंदी गीत सुनाई देता है, जिसमें जॉनसन को जिताने और लेबर पार्टी के नेता जेरेमी कॉर्बिन के विरोध में कई बातें सुनाई देती हैं। वीडियो में पीएम मोदी के साथ जॉनसन की तस्वीरें भी हैं। साथ ही ब्रिटेन में भारतीय उच्चायुक्त की भी तस्वीर है। गीत के बोल हैं- ‘जागो...जागो...जागो, चुनाव फिर से आया है। बोरिस को जिताना है, देश को आज बचाना है। कुछ करके हमें दिखाना है।’ लोगों का कहना है, ‘वीडियो किसी लोकल स्टूडियो में बनाया गया है ताकि स्थानीय कलाकारों के लिए नौकरियां पैदा की जा सकें।’ वीडियो में कुछ लोग मंदिर में लेबर पार्टी के खिलाफ बातें कहते नजर आते हैं। जैसे जेरेमी मोदी-विरोधी, इंडिया-विरोधी हैं। लेबर पार्टी के आने पर हिंदू और सिख सुरक्षित नहीं रहेंगे।

इन मुद्दों से रिझाने की कोशिश
ब्रैडफर्ड के राकेश शर्मा दूसरे कई भारतीयों की तरह ही लेबर पार्टी से नाराज हैं। पार्टी ने कश्मीर में मानवाधिकार की बहाली पर प्रस्ताव पास किया था। पंजाब से आए मुकेश चावला कहते हैं कि कॉर्बिन ने 370 हटाने का विरोध किया था। वहीं, जॉनसन ने संसद में कहा था कि कश्मीर भारत का अंदरूनी मामला है, तो उसमें दखल नहीं करना चाहिए। इसलिए बहुत से भारतीय उनके समर्थक हो गए हैं। पिछले हफ्ते जॉनसन स्वामीनारायण मंदिर पहुंचे थे, इससे भी उनका भारतीयों के प्रति झुकाव दिखता है। उधर, लेबर पार्टी भी भारतीयों को रिझाने की कोशिश कर रही। पार्टी के मुताबिक, अगर हम जीतते हैं तो जलियांवाला हत्याकांड के लिए औपचारिक रूप से माफी मांगेगी। इसके अलावा सिलेबस में ब्रिटिश राज के अत्याचारों को भी शामिल किया जाएगा।

अमेरिका, इजराइल में भी आम चुनाव के प्रचार में भारत और मोदी चर्चा में रहे थे
ये पहला मौका नहीं है, जब किसी देश के चुनावों में भारत की चर्चा हो रही हो। इससे पहले इजराइल चुनाव में प्रचार के लिए तत्कालीन प्रधानमंत्री नेतन्याहू ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कई राष्ट्र प्रमुखों की तस्वीरें इस्तेमाल की थीं। अमेरिकी चुनाव प्रचार में भी वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें डोनाल्ड ट्रम्प ‘आई लव हिंदू’ कहते दिखे थे।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि के लिए ग्रह गोचर बेहतरीन परिस्थितियां तैयार कर रहा है। आप अपने अंदर अद्भुत ऊर्जा व आत्मविश्वास महसूस करेंगे। तथा आपकी कार्य क्षमता में भी इजाफा होगा। युवा वर्ग को भी कोई मन मुताबिक क...

और पढ़ें