साउथ चाइना सी में भिड़ जाते चीन-अमेरिका के फाइटर जेट:दोनों में रह गया था सिर्फ 20 फीट का फासला, एक-दूसरे पर आरोप लगाए

वॉशिंटन3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
साउथ चाइना सी में अमेरिकी एयरक्राफ्ट के सामने आया चीनी फाइटर जेट। - Dainik Bhaskar
साउथ चाइना सी में अमेरिकी एयरक्राफ्ट के सामने आया चीनी फाइटर जेट।

अमेरिकी सेना ने गुरुवार को बताया कि 21 दिसंबर को साउथ चाइना सी पर रूटीन ऑपरेशन के दौरान एक चीनी फाइटर जेट अमेरिकी एयरफोर्स के विमान से टकराने से बाल-बाल बचा।

चीनी फाइटर जेट अमेरिकी एयरक्राफ्ट के इतने नजदीक आ गया था कि दोनों के बीच केवल 20 फीट की दूरी रह गई थी। अमेरिका की मिलिट्री ने बयान जारी कर चीनी सेना के पायलट पर खतरनाक तरीके से J-11 जेट उड़ाने के आरोप लगाए हैं।

साउथ चाइना सी में अमेरिकी विमान के साथ चीन का फाइटर जेट
साउथ चाइना सी में अमेरिकी विमान के साथ चीन का फाइटर जेट

खतरनाक पैंतरेबाजी कर रहा था चीनी पायलट
अमेरिका ने कहा कि चीनी पायलट की पैंतरेबाजी बड़े हादसे में बदल सकती थी। चीन का फाइटर जेट अमेरिकी एयरफोर्स RC-135 प्लेन की नाक की सीध में आ गया था। जिसके बाद अमेरिकी पायलट को दोनों की टक्कर होने से बचाने के लिए कड़ी मशक्कत करनी पड़ी।

अमेरिका ने चीन पर आरोप लगाया है कि वहां की सेना साउथ चाइना सी पर लगातार इस तरह के हवाई गतिरोध पैदा कर रही है। जो हमारे लिए चिंता का विषय है।

अमेरिका की तरफ जारी किया गया बयान
अमेरिका की तरफ जारी किया गया बयान

घटना के 8 दिन बाद ही क्यों दी जानकारी
इस मामले की जानकारी देरी से देने के सवाल पर अमेरिकी सेना के प्रवक्ता ने कहा कि इस तरह के मामलों में कई तरह की बारीकियों की जांच की जाती है। सरकार को दूसरी एजेंसियों को भी इसकी जानकारी देनी होती है।

घटना के एक दिन बाद अमेरिका की इंडो पैसिफिक कमांड ने कहा था कि वो साउथ चाइना सी, फिलीपींस सी और ईस्ट चाइना सी में चीन की मिलिट्री गतिविधियों पर नजर बनाए हुए है। अमेरिका चीन की तरफ से बनाए जा रहे दबाव को किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं करेगा।

चीन का पलटवार साउथ चाइना सी के एयर स्पेस में गतिरोध के आरोपों पर चीन ने अमेरिका का जवाब दिया है। चीन के विदेश मंत्रालय ने कहा अमेरिका अपने लड़ाकू जहाज और प्लेन भेज चीन की निगरानी करता है। अमेरिका की भड़काऊ कार्रवाई ही साउथ चाइना सी की सुरक्षा समस्याएं खड़ी करती हैं। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेंबिन ने अमेरिका से अपील की है कि वो इस तरह की खतरनाक कार्रवाई से बचें और चीन को बदनाम न करें।

खबरें और भी हैं...

चीन ने भेजे परमाणु हमला करने वाले फाइटर:24 घंटे में 18 H-6 बॉम्बर ने की घुसपैठ, ताइवान बोला- यह हम पर हमला करने की कोशिश

9 दिसंबर को भारत के अरुणाचल प्रदेश में घुसपैठ की नाकाम कोशिश के बाद अब चीन ने ताइवान में अपने लड़ाकू विमान भेजे हैं। मंगलवार सुबह ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने इसकी पुष्टि की है। मंत्रालय ने बताया कि पिछले 24 घंटों में चीन ने 18 H-6 बॉम्बर ताइवान के एयर डिफेंस जोन में भेजे हैं। जो परमाणु हमला करने में माहिर हैं। पूरी खबर यहां पढ़े...