यूएस / डोनाल्ड ट्रम्प एपल को टैरिफ से छूट दे सकते हैं, टिम कुक से मुलाकात के बाद संकेत दिए



डोनाल्ड ट्रम्प (दाएं) और एपल के सीईओ टिम कुक। (फाइल) डोनाल्ड ट्रम्प (दाएं) और एपल के सीईओ टिम कुक। (फाइल)
X
डोनाल्ड ट्रम्प (दाएं) और एपल के सीईओ टिम कुक। (फाइल)डोनाल्ड ट्रम्प (दाएं) और एपल के सीईओ टिम कुक। (फाइल)

  • ट्रम्प ने कहा- सैमसंग से कॉम्पिटीशन की वजह से एपल के लिए टैरिफ चुकाना मुश्किल होगा
  • चीन से यूएस आने वाले एपल वॉच, अन्य एसेसरीज पर 1 सितंबर से 10% टैरिफ लागू हो जाएगा
  • आईफोन, आईपैड, लैपटॉप पर 15 दिसंबर से टैरिफ लगेगा, इससे यूएस में एपल के प्रोडक्ट महंगे होंगे

Dainik Bhaskar

Aug 19, 2019, 11:37 AM IST

न्यूजर्सी. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और एपल के सीईओ टिम कुक शुक्रवार को डिनर पर मिले। ट्रम्प ने रविवार को बातचीत की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कुक ने चाइनीज इंपोर्ट पर टैरिफ और सैमसंग से कॉम्पिटीशन का मुद्दा रखा। कुक ने कहा कि चीन से आने वाले एपल के प्रोडक्ट पर अमेरिका में टैरिफ लगता है तो एपल को नुकसान और सैमसंग को फायदा होगा। क्योंकि, सैमसंग चीन के अलावा दूसरे देशों में भी मैन्युफैक्चरिंग करती है। ट्रम्प ने कहा कि कुक की दलील दमदार है। इस मुद्दे पर मैं इस बारे में विचार कर रहा हूं।

 

आईफोन, आईपैड और एपल लैपटॉप जैसे प्रोडक्ट के चाइनीज इंपोर्ट पर 15 दिसंबर से अमेरिका में 10% टैरिफ लगेगा। जबकि, एपल वॉच, एयरपॉड्स और अन्य एसेसरीज पर 1 सितंबर से लागू हो जाएगा। एपल अपनी ज्यादातर डिवाइसेस चीन में बनाती है। वहां से अमेरिका और अन्य देशों में एपल के प्रोडक्ट इंपोर्ट होते हैं। जबकि, एपल की सबसे बड़ी कॉम्पिटीटर सैमसंग चीन के अलावा विएतनाम और दक्षिण कोरिया में भी मैन्युफैक्चरिंग करती है।

 

अमेरिका में टैरिफ लगने से एपल के प्रोडक्ट महंगे हो जाएंगे। इससे एपल को सैमसंग से ज्यादा प्रतिस्पर्धा झेलनी पड़ेगी। सैमसंग इसी महीने लेटेस्ट स्मार्टफोन नोट 10 लॉन्च करने वाली है। जबकि, एपल अपने कंप्यूटर, आईफोन और एपल वॉच को कुछ महीने बाद अपग्रेड करेगी। ट्रम्प ने कहा है कि एपल एक बहुत अच्छी कंपनी से कॉम्पिटीशन करती है तो उसके लिए टैरिफ चुकाना मुश्किल होगा।

 

DBApp

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना