अमेरिका / ट्रम्प-क्लिंटन के करीबी रहे अरबपति ने जेल में आत्महत्या की, नाबालिगों की तस्करी का आरोप था



जेफ्री एपस्टीन। -फाइल फोटो जेफ्री एपस्टीन। -फाइल फोटो
X
जेफ्री एपस्टीन। -फाइल फोटोजेफ्री एपस्टीन। -फाइल फोटो

  • न्यूयॉर्क की जेल में बंद अमेरिकी फाइनेंसर जेफ्री एपस्टीन ने फांसी लगाकर जान दे दी
  • एपस्टीन पर 2002 से 2005 तक नाबालिगों के यौन शोषण का आरोप लगा
  • पुलिस को एपस्टीन के घर से नाबालिग लड़कियों की अश्लील तस्वीरें मिली थीं

Dainik Bhaskar

Aug 10, 2019, 08:07 PM IST

वॉशिंगटन. अमेरिका के मशहूर फाइनेंसर जेफ्री एपस्टीन (66) ने जेल में आत्महत्या कर ली। उन पर जिस्मफरोशी के लिए नाबालिगों की तस्करी का आरोप था। कोर्ट के पेपर के मुताबिक एपस्टीन के अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प, पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन और ब्रिटेन के प्रिंस एंड्रयू समेत कई बड़े राजनेताओं से करीबी संबंध रहे हैं। हालांकि आरोप में किसी भी नेता के नाम का उल्लेख नहीं किया गया। एपस्टीन ने आरोपों से इनकार किया।

 

अमेरिकी मीडिया ने पुलिस अधिकारी के हवाले से बताया कि एपस्टीन ने फांसी लगाकर आत्महत्या की। पुलिसकर्मियों ने शनिवार सुबह करीब 7.30 बजे उसका शव लटका पाया। एपस्टीन की जुलाई में कोर्ट ने जमानत याचिका रद्द होने के बाद भी आत्महत्या की कोशिश की थी। एपस्टीन ने अपने ऊपर लगे सभी आरोप स्वीकार कर लिए थे।

 

नाबालिकों का शोषण करता था एपस्टीन
एपस्टीन पर आरोप था कि वह न्यूयार्क और फ्लोरिडा स्थित अपने घर में 14 साल की कई लड़कियों को रहने का लालच देता था। इसके बाद नाबालिगों को शारीरिक संबंध के लिए भुगतान कर उनका शोषण करता था। सेक्स ट्रैफिकिंग के मामले को लेकर एपस्टीन ने अमेरिकी मजिस्ट्रेट हेनरी पिटमैन के समक्ष अपनी दलील भी दी थी।

 

अमेरिकी अटॉर्नी ने कहा था- झकझोर देता है यह व्यवहार
मैनहट्टन की फेडरल कोर्ट में एपस्टीन पर आरोप लगा है कि वह 2002 से 2005 तक अपने घर में "नग्न मसाज' और शारीरिक संबंध के लिए नाबालिग लड़कियों को रखता था। अमेरिकी अटॉर्नी ने एक प्रेस कान्फ्रेंस में कहा था, ‘‘उनका कथित व्यवहार अंतरात्मा को झकझोर देता है। उन पर लगे आरोप कई साल पुराने हैं, लेकिन यह उन पीड़ितों के लिए काफी मायने रखता जो अब जवान हो गई हैं।’’

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना