मसूद का मुद्दा / चीन को मनाने में जुटे अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन; तीनों इस बार निर्णायक लड़ाई के मूड में



मसूद अजहर मसूद अजहर
X
मसूद अजहरमसूद अजहर

  • चीन के न मानने पर सुरक्षा परिषद में वोटिंग भी कराई जा सकती है
  • मसूद के खिलाफ प्रस्ताव की भाषा में भी किया जा सकता है बदलाव

Dainik Bhaskar

Mar 16, 2019, 11:57 AM IST

वॉशिंगटन. जैश-ए-मोहम्मद सरगना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकियों की सूची में डालने के प्रयास में अड़ंगा लगा रहे चीन को समझाने की आखिरी कोशिश शुरू हो गई है। अगर वह नहीं मानता है तो तीनों महाशक्ति इस बार निर्णायक लड़ाई के मूड में हैं। मसूद मामले पर सुरक्षा परिषद में ओपन वोटिंग भी कराई जा सकती है। हालांकि, अभी तीनों का प्रयास है कि चीन को कैसे भी मना लिया जाए। सूत्रों का कहना है कि चीन की मांग के मुताबिक मसूद के प्रस्ताव के भाषा में कुछ बदलाव भी किया जा सकता है। 
 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना