अमेरिका में भारतीय छात्र की हत्या:कोरियाई रूममेट आरोपी, वजह वीडियो गेम तो नहीं?

वॉशिंगटन4 महीने पहले

अमेरिका के इंडियाना में पर्ड्यू यूनिवर्सिटी में पढ़ाई कर रहे भारतीय छात्र की उसके कोरियाई रूम मेट ने हत्या कर दी। भारतीय छात्र घटना के समय वीडियो गेम खेल रहा था। सवाल उठ रहा है कि वीडियो गेम की वजह से झगड़ा तो नहीं हुआ। खैर...पुलिस आरोपी से सच उगलवा लेगी, लेकिन आप इस वारदात के बारे में सोचिए और एक सवाल का जवाब दीजिए।

पुलिस ने बताया कि मृतक की पहचान 20 साल के वरुण मनीष छेड़ा के रूप में हुई है। जो डेटा साइंस की पढ़ाई कर रहे थे। मेडिकल रिपोर्ट के अनुसार मौत अधिक चोट लगने से हुई। वारदात बुधवार देर रात 12:45 बजे की है।

आरोपी जी मिन जिमी ने इमरजेंसी नंबर 911 पर फोन कर खुद ही पुलिस को बुलाया। उसे गिरफ्तार कर लिया गया। वरुण और जिमी यूनिवर्सिटी के हॉस्टल में साथ रहते थे।

हत्या का कोई इरादा सामने नहीं आया
वरुण की हत्या कैंपस के मैककचियन हॉल के पहले फ्लोर पर की गई। पुलिस अधिकारी लेस्ली विएटे ने कहा- शुरुआती जांच में हत्या का कोई इरादा सामने नहीं आया है। हालांकि, पुलिस ने इमरजेंसी नंबर पर आरोपी और उनके बीच हुई बातों का खुलासा नहीं किया। विएटे ने बताया- पिछले आठ सालों में पर्ड्यू में ऑन कैंपस मर्डर का ये पहला मामला है। पुलिस आगे की जांच कर रही है।

बचपन के दोस्त ने सुनी थी वरुण के चिल्लाने की आवाज
वरुण के बचपन के दोस्त अरुणाभ सिन्हा ने बताया कि वरुण मंगलवार रात ऑनलाइन गेम खेल रहा था। गेम खेलते वक्त वह अपने दोस्तों के साथ बात भी कर रहा था। इसी बीच उन्होंने अचानक कॉल पर उसके चिल्लाने की आवाज सुनी। लेकिन, वे उस वक्त कुछ समझ नहीं सके। अगली सुबह उन्हें वरुण की मौत की खबर मिली।

यूनिवर्सिटी के प्रेसिडेंट मिच डेनियल्स ने कहा- वरुण की मौत दुखद है। हम सोच भी नहीं सकते कि कैंपस के अंदर ऐसी घटना होगी।

अमेरिका में ही 4 भारतीयों की हत्या की ये खबर भी आप पढ़ सकते हैं...
तीन दिन पहले गिडनैप हुए सिख परिवार के सदस्यों का शव बरामद

3 अक्टूबर को कैलिफोर्निया के सिख परिवार को किडनैप कर लिया गया था। इसके बाद सभी के शव गुरुवार को बरामद किए गए।
3 अक्टूबर को कैलिफोर्निया के सिख परिवार को किडनैप कर लिया गया था। इसके बाद सभी के शव गुरुवार को बरामद किए गए।

अमेरिका में हाल के कुछ दिनों में भारतीयों पर हमले बढ़े हैं। इससे पहले कैलिफोर्निया में 3 अक्टूबर को एक पंजाबी परिवार के सभी सदस्यों काे किडनैप कर लिया गया था। इसके बाद सभी सदस्यों के शव बरामद हुए। इनमें 8 महीने की बच्ची भी शामिल है। परिवार के सभी चार लोगों की गोली मारकर हत्या की गई। यह परिवार पंजाब के होशियारपुर जिले के टांडा के हरसी गांव का रहने वाला था। इनका अमेरिका में ट्रांसपोर्ट बिजनेस था। हत्या करने वाला मैनुअल सालगाडो परिवार के ऑफिस में काम कर चुका था। पढ़िए पूरी खबर...