• Hindi News
  • International
  • Trump and Kim: Donald Trump's U turn after a month, says Got Kim Jong un beautiful letter, third round of talks possibl

अमेरिका / एक महीने बाद फिर पलटे ट्रम्प, कहा- किम का शानदार पत्र मिला, तीसरी वार्ता भी संभव

Dainik Bhaskar

Jun 12, 2019, 11:43 AM IST



Trump and Kim: Donald Trump's U-turn after a month, says- Got Kim Jong-un beautiful letter, third round of talks possibl
X
Trump and Kim: Donald Trump's U-turn after a month, says- Got Kim Jong-un beautiful letter, third round of talks possibl

  • एक महीने पहले उत्तर कोरिया के मिसाइल टेस्ट पर ट्रम्प ने कहा था कि किम बातचीत के इच्छुक नहीं हैं
  • मिसाइल टेस्ट के बाद अमेरिका ने उत्तर कोरिया का एक कार्गो शिप अपने कब्जे में ले लिया था

वॉशिंगटन. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा है कि उन्हें उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग-उन का एक शानदार पत्र मिला है। इसी के साथ उन्होंने एक बार फिर उत्तर कोरिया से बातचीत जारी रखने की इच्छा जाहिर की, जबकि एक महीने पहले ही उत्तर कोरिया के मिसाइल टेस्ट के बाद ट्रम्प ने नाराजगी जताते हुए कहा था कि किम बातचीत के इच्छुक नहीं हैं। 

 

दरअसल, पिछले महीने उत्तर कोरिया ने लंबी दूरी की मिसाइलों का टेस्ट किया था। इस दौरान किम खुद परीक्षण देखने के लिए मौजूद थे। अमेरिका और दक्षिण कोरिया ने इस टेस्ट की पुष्टि भी की थी। हालांकि, ट्रम्प ने मंगलवार को उस घटनाक्रम को नजरअंदाज करते हुए कहा कि किम अपनी बात पर कायम रहे हैं। मेरे लिए यह काफी अहम है। 
  

‘तीसरी मुलाकात के लिए माहौल ठीक होना जरूरी’
अमेरिकी राष्ट्रपति ने यह नहीं बताया कि किम ने पत्र में क्या लिखा। लेकिन उन्होंने तानाशाह किम के साथ तीसरी बार वार्ता में दिलचस्पी दिखाई। व्हाइट हाउस में पत्रकारों से बातचीत के दौरान ट्रम्प ने कहा, “मुलाकात तीसरी बार भी हो सकती है, लेकिन माहौल ठीक होना जरूरी है। उनके (उत्तर कोरिया) के तैयार होने के बाद हम भी तैयार होंगे।” माना जा रहा है कि अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) जॉन बोल्टन भी दोनों नेताओं के बीच तीसरी समिट के समर्थन में हैं। 

 

अमेरिका को गुंडा बता चुका है उत्तर कोरिया
उत्तर कोरिया की तरफ से मिसाइल टेस्ट किए जाने के बाद अमेरिका ने आर्थिक प्रतिबंधों का हवाला देकर उसका एक कार्गो शिप जब्त कर लिया था। इस पर उत्तर कोरिया ने अमेरिका को गैंगस्टर (गुंडा) कहा था। संयुक्त राष्ट्र को लिखे एक पत्र में किम प्रशासन ने कहा था कि यूएन सेक्रेटरी जनरल अमेरिकी दादागिरी का मुद्दा अपने मंच से उठाएं। 

COMMENT