पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • International
  • Donald Trump | US Presidential Election Postponed 2020 Latest News Updates: Republican Party Leaders On Donald Trump

बैकफुट पर अमेरिकी राष्ट्रपति:अपनी पार्टी का समर्थन न मिलने के बाद ट्रम्प ने कहा- चुनाव टालना नहीं चाहते, फर्जी वोटों से बचना चाहते हैं

वॉशिंगटन14 दिन पहले
ट्रम्प ने गुरुवार को कहा था कि महामारी के चलते अगर चुनावों में मेल-इन बैलेट से वोटिंग होती है तो यह अमेरिकी इतिहास के सबसे गलत चुनाव साबित होंगे। -फाइल फोटो
  • रिपब्लिकन पार्टी के कई नेताओं ने कहा- ट्रम्प के पास चुनाव टालने का अधिकार नहीं
  • ट्रम्प ने कहा था- अगर मेल-इन बैलेट से चुनाव हुए तो इतिहास के सबसे फर्जी चुनाव होंगे

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प नवंबर में होने वाले चुनाव को टालने की बात पर बैकफुट में आ गए हैं। उन्हें अपनी ही पार्टी का समर्थन नहीं मिला है। रिपब्लिकन पार्टी के कई बड़े नेताओं ने कहा है कि ट्रम्प के पास चुनाव टालने का अधिकार नहीं है। अब ट्रम्प ने कहा है कि वे चुनाव टालना नहीं चाहते हैं, लेकिन फर्जी वोटों से बचना चाहते हैं।

ट्रम्प ने कहा था- इस बार इतिहास के सबसे फर्जी चुनाव होंगे
ट्रम्प ने गुरुवार को सुझाव दिया था कि 2020 में होने वाला इलेक्शन टाल दिया जाए। उन्होंने कहा था कि कोरोना महामारी के चलते इन चुनावों में मेल-इन बैलेट (चिट्ठी के जरिए वोटिंग) से वोटिंग हो सकती है। ऐसा हुआ तो यह अमेरिकी इतिहास के सबसे गलत और फर्जी चुनाव साबित होंगे। यह अमेरिका के लिए बेहद शर्म की बात होगी।

मेल-इन बैलेट के पक्ष में 71% वोटर
अमेरिका में हाल ही में हुए एक सर्वे में सामने आया था कि 71% वोटर मेल-इन बैलेट के जरिए वोटिंग के पक्ष में हैं। यह सर्वे हार्वर्ड सेंटर फॉर अमेरिकन पॉलिटिकल स्टडीज (सीएपीएस) ने किया था। इसमें बताया गया कि महामारी को देखते हुए 88% डेमोक्रेट्स और 50% रिपब्लिकन भी मेल-इन बैलेट के जरिए वोटिंग के पक्ष में हैं।

ट्रम्प के पास चुनाव टालने का अधिकार नहीं
अमेरिका के संविधान के अनुसार, राष्ट्रपति चुनाव की तारीख बदलने का अधिकार राष्ट्रपति के पास नहीं है। इसके लिए ट्रम्प को संसद के दोनों सदन हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव और सीनेट से बिल मंजूर कराना होगा। सीनेट में तो ट्रम्प की रिपब्लिकन पार्टी का बहुमत है, लेकिन निचले सदन में डेमोक्रेटिक पार्टी का बहुमत है।
अगर ट्रम्प दोनों सदनों से बिल पास करा भी लेते हैं तो भी वे ज्यादा समय तक चुनाव नहीं टाल पाएंगे। अमेरिका के संविधान के मुताबिक राष्ट्रपति चुनाव 20 जनवरी तक हर हाल में कराने होंगे।

तीन नवंबर को हैं राष्ट्रपति चुनाव
अमेरिका में राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव 3 नवंबर को होने हैं। रिपब्लिकन पार्टी की ओर से राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प तो डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से पूर्व उपराष्ट्रपति जो बिडेन हैं। दोनों पार्टियों के प्राइमरी चुनाव खत्म हो चुके हैं। डेमोक्रेटिक पार्टी का नेशनल कन्वेंशन भी हो चुका है। इसमें बिडेन के नाम पर मोहर लगी है। अगस्त में रिपब्लिकन पार्टी का नेशनल कन्वेंशन होना है। इसमें ट्रम्प को आधिकारिक रूप से उम्मीदवार घोषित किया जाएगा।

अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव से जुड़ी ये खबर भी पढ़ सकते हैं...
1. अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव टलेंगे?:चुनाव से 96 दिन पहले ट्रम्प ने कहा- इस बार इतिहास के सबसे फर्जी चुनाव होंगे, इससे अमेरिका शर्मिंदा होगा; चुनाव टाल देना चाहिए

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि के लिए ग्रह गोचर बेहतरीन परिस्थितियां तैयार कर रहा है। आप अपने अंदर अद्भुत ऊर्जा व आत्मविश्वास महसूस करेंगे। तथा आपकी कार्य क्षमता में भी इजाफा होगा। युवा वर्ग को भी कोई मन मुताबिक क...

और पढ़ें