पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Sports
  • US Report Most Affected By Corona In The World, All Leagues Set To Start Without Fans

कोरोना का डर:सभी लीग बिना फैंस के शुरुआत की तैयारी में, 4 में से 3 अमेरिकी वैक्सीन बनने तक स्टेडियम जाकर मैच नहीं देखना चाहते

वॉशिंगटन5 महीने पहलेलेखक: न्यूयॉर्क (अमेरिका) से भास्कर के लिए मोहम्मद अली
  • कॉपी लिंक
देश में अधिकतर खेल गतिविधियां मार्च से बंद हैं। हालांकि, मई से धीरे-धीरे इसकी शुरुआत हो रही हैं। मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स (एमएमए) और नेसकार के इवेंट हो चुके हैं।
  • फॉक्स नेटवर्क जैसे कई टीवी नेटवर्क बिना दर्शकों के लाइव टेलीकास्ट पर विचार कर रहे, आर्टिफिशियल क्राउड से सीटें भरी जाएंगी
  • 7.5 लाख करोड़ रुपए की अमेरिकी स्पोर्ट्स इंडस्ट्री को खेल न होने से अब तक 90 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान हो चुका

दो महीने की नेशनल इमरजेंसी के दौरान पहली बार शनिवार को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प गोल्फ खेलते नजर आए। अमेरिका में कोरोनावायरस से मरने वाले लोगों का आंकड़ा एक लाख को पार कर गया है। इस दौरान अगर देश का राष्ट्रपति गोल्फ खेल रहा हो तो उसकी आलोचना होना लाजमी है।

ट्रम्प ने कहा, ‘हम खेल की वापसी चाहते हैं। देश में खेल शुरू हाेने की आवश्यकता है। हम इसके लिए काम भी शुरू कर चुके हैं। चाहते हैं कि खेल जैसा पहले था, वैसा हो जाए। 80-90 हजार की क्षमता वाले स्टेडियम में सिर्फ 15 हजार फैंस न हों।’

देश में अधिकतर खेल गतिविधियां मार्च से बंद हैं। हालांकि, मई से धीरे-धीरे कुछ गतिविधियां शुरू हो रही हैं। मिक्स्ड मार्शल आर्ट्स (एमएमए) और नेसकार के इवेंट हो चुके हैं।

आर्टिफिशियल क्राउड से स्टेडियम भरने की योजना: स्पोर्ट्स इंडस्ट्री ऐसी किसी भी खेल गतिविधि को बढ़ावा नहीं दे रही, जिसमें भीड़ जुटे और फिजिकल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन हो। टीमें, एसोसिएशन, लीग, ब्रॉडकास्टर, स्पॉन्सर का मुख्य फोकस बिना दर्शकों के खेल शुरू करवाना है।

फॉक्स नेटवर्क जैसे कई टीवी नेटवर्क बिना दर्शकों के लाइव टेलीकास्ट पर विचार कर रहे हैं। वे खाली सीटों को आर्टिफिशियल क्राउड से भरने की योजना पर काम कर रहे हैं। न्यू जर्सी की सेटन हाल यूनिवर्सिटी के हालिया सर्वेक्षण के अनुसार, अमेरिकी आने वाले समय में लाइव गेम टीवी पर देखना पसंद करेंगे।  

मेजर लीग ने कहा- टूर्नामेंट के लिए कॉस्ट कटिंग जरूरी

ईएसपीएन के एनालिसिस के अनुसार, 7.5 लाख करोड़ रुपए की अमेरिकी स्पोर्ट्स इंडस्ट्री को खेल न होने से अब तक 90 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान हो चुका है। ब्रॉडकास्टिंग रेवेन्यू के साथ-साथ खिलाड़ी, स्टेडियम और स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में काम करने वाले लोग सभी इससे प्रभावित हुए हैं।

कई मेजर लीग ने स्टाफ और खिलाड़ियों को सूचित कर दिया है कि आने वाले दिनों में अगर सरवाइव करना है और खेलों का आयोजन करना है तो कॉस्ट कटिंग करनी होगी।

एमएलएस और एनबीए के मुकाबले डिज्नी के कॉम्प्लेक्स में हो सकते हैं
बास्केटबॉल, बेसबॉल, फुटबॉल और अमेरिकन फुटबॉल की बड़ी लीग की योजना खेलों को बिना दर्शकों के आयोजित करने की है। मेजर लीग सॉकर (एमएलएस) ने फ्लोरिडा डिज्नी वर्ल्ड में मैच आयोजित करने का प्रस्ताव दिया है।

एनबीए की सभी 30 टीमें सीजन दोबारा शुरू करने को लेकर विचार कर रही हैं। लीग का बाकी सीजन ऑरलैंडो के डिज्नी वर्ल्ड में जुलाई के अंत में शुरू हो सकता है। 

मेजर लीग सॉकर: 1200 से ज्यादा लोग 14 दिन तक क्वारेंटाइन रहेंगे
एमएलएस अगर डिज्नी स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में होती है तो खिलाड़ी, कोच, सपोर्ट स्टाफ के 1200 से ज्यादा लोगों को वाल्ट डिज्नी वर्ल्ड के पास बड़े रिजॉर्ट में 14 दिन के लिए क्वारेंटाइन में रहना होगा। खिलाड़ी परिवार को साथ नहीं ले जा सकेंगे।

खिलाड़ी ईएसपीएन के वाइड वर्ल्ड ऑफ स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में प्रैक्टिस करेंगे। खिलाड़ी जून के मध्य में वहां पहुंच सकते हैं। खेल जुलाई में शुरू हो सकते हैं।

एनबीए: हेड कोच के लिए वर्कआउट सेशन प्रतिबंधित, ग्लव्स भी जरूरी
एनबीए 11 मार्च से स्थगित है। मई के पहले हफ्ते में घोषणा की गई थी कि एनबीए की टीमें जल्द ही प्रैक्टिस शुरू कर सकती हैं। खिलाड़ियों को एरिया को सैनिटाइज करना जरूरी है। सोशल डिस्टेंस मेंटेन करना होगा।

हेड कोच और पहली पंक्ति के असिस्टेंट के लिए वर्कआउट सेशन प्रतिबंधित है। हर टीम के साथ सिर्फ चार सदस्य हो सकते हैं। उनका भी मास्क और ग्लव्स पहनना अनिवार्य है।

अमेरिका की आधी आबादी का मानना है कि गेम बिना लाइव ऑडियंस के हों
ईएसपीएन के सर्वे के अनुसार, आधे से ज्यादा फैंस लाइव स्पोर्ट्स नहीं देख रहे। उन्होंने कहा है कि गेम बिना फैंस और लाइव ऑडियंस के होने चाहिए। फैंस को इस बात की भी चिंता है कि अगर वे स्टेडियम में गेम देखने जाएंगे तो वे संक्रमित हो सकते हैं।

सर्वे के अनुसार, चार में से तीन अमेरिकी तब तक स्टेडियम में मैच देखने नहीं जाना चाहते, जब तक कि वैक्सीन नहीं बन जाती।

अंपायरों को सबसे ज्यादा खतरा

सिर्फ खिलाड़ियों को ही रिस्क नहीं है। अंपायर, रेफरी, कोच, टीवी क्रू के सदस्यों को भी उतना ही खतरा है। अधिकतर अंपायरों की उम्र 50 साल से ज्यादा है और उन्हें रिस्क काफी ज्यादा है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज समय बेहतरीन रहेगा। दूरदराज रह रहे लोगों से संपर्क बनेंगे। तथा मान प्रतिष्ठा में भी बढ़ोतरी होगी। अप्रत्याशित लाभ की संभावना है, इसलिए हाथ में आए मौके को नजरअंदाज ना करें। नजदीकी रिश्तेदारों...

और पढ़ें