• Hindi News
  • International
  • US VS Vladimir Putin; All About Oligarch Task Force | Russian Billionaires Assets Meta Keywords: Multilateral Russian Oligarch Task Force And Russian Billionaires' Property

अमेरिका ने की पुतिन पर नकेल कसने की तैयारी:ब्रिटेन-फ्रांस को साथ लेकर 8 देशों का संगठन बनाया, रूसी अरबपतियों की संपत्ति जब्त करेंगे

वॉशिंगटन5 महीने पहले

यूक्रेन जंग के बीच अमेरिका रूस पर दबाव बनाने के लिए कई तरह के जतन कर रहा है। इस बीच उसने 8 देशों के साथ मिलकर रूसी अरबपति जिन्हें ओलिगार्क भी कहा जाता है, उनकी सम्पत्ति जब्त करने के लिए टास्क फोर्स का गठन किया है। इस नए संगठन में अमेरिका, ब्रिटेन, कनाडा, फ्रांस, जापान, ऑस्ट्रेलिया, जर्मनी और इटली शामिल हैं। अब इन देशों में रूसी अरबपतियों की संपत्ति जब्त की जाएगी।

आगे बढ़ने से पहले आप इस पोल में हिस्सा लेकर अपनी राय दे सकते है...

अमेरिकी ट्रेजरी डिपार्टमेंट की प्रेस रिलीज के मुताबिक, डिपार्टमेंट के सीनियर अफसरों ने ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, जर्मनी, फ्रांस, इटली, जापान, ब्रिटेन और यूरोपियन यूनियन के प्रतिनिधियों के साथ मुलाकात की। इस दौरान 'रूसी ओलिगार्क टास्क फोर्स' के गठन पर बात हुई। सबसे पहले टास्क फोर्स की घोषणा 26 फरवरी को की गई थी।

जो बाइडेन ने 2 मार्च को किया था ऐलान
इस ग्रुप के सभी सदस्य अपने देश में ओलिगार्क के खिलाफ दर्ज बैन, प्रॉपर्टी फ्रीजिंग और क्रिमिनल केस की जानकारी एक दूसरे से साझा करेंगे। इससे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने 2 मार्च को अपने पहले ‘स्टेट ऑफ द यूनियन’ संबोधन में रूसी अरबपतियों के यॉट, लक्जरी अपार्टमेंट और निजी जेट को जब्त करने के लिए एक स्पेशल टास्क फोर्स के गठन ऐलान किया था।

रूस पर पहले ही कई बैन लग चुके हैं, पहले देखिए यूक्रेन के किन इलाकों पर कब्जा हो चुका है

खेल के मैदान से लेकर एयरस्पेस तक, SWIFT से बाहर करने से लेकर अरबपतियों की संपत्ति जब्त करने तक; रूस पर प्रतिबंधों के जरिए दबाव बनाने की कोशिशें जारी हैं। अमेरिका पहले ही अमेरिका ने रूस से गैस, ऑयल और कोयला इम्पोर्ट पर बैन लगा चुका है।

रूस से नॉर्मल ट्रे़ड सस्पेंड करने की भी मांग
रूस की आर्थिक स्थिति और कमजोर करने के लिए बाइडेन ने अमेरिकी संसद में रूस के साथ नॉर्मल ट्रे़ड सस्पेंड करने की भी मांग की। वहीं यूरोपियन यूनियन ने भी रूसी राष्ट्रपति की संपत्ति जब्त करने का ऐलान कर दिया है। इसके अलावा ब्रिटेन ने भी पुतिन के खिलाफ बैन लगाए हैं।

बाइडेन ने पुतिन को बताया 'वॉर क्रिमिनल'

रूस-यूक्रेन जंग का आज 22वां दिन हो गए हैं। रूसी सेना राजधानी कीव के काफी नजदीक पहुंच गई है। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने पहली बार रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को 'वॉर क्रिमिनल' कहा है। बाइडेन के बयान को रूस के खिलाफ अमेरिका के रुख में बड़ा बदलाव माना जा रहा है। बाइडेन प्रशासन अब तक यूक्रेन हमले को वॉर क्राइम कहने से बचता रहा है।

खबरें और भी हैं...