पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • International
  • Vaccination Will Start In The US From December 11, India Hopes To Have Vaccine By March Next Year

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना वैक्सीन पर खुशखबरी:भारत में बन रही ऑक्सफोर्ड की कोवीशील्ड 90% तक असरदार; फरवरी तक 10 करोड़ डोज तैयार हो जाएंगे

6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कोरोना वैक्सीन को लेकर बड़ी और अच्छी खबर है। तीसरे फेज के ट्रायल में ऑक्सफोर्ड/एस्ट्राजेनेका वैक्सीन (कोवीशील्ड) 90% तक असरदार पाई गई है। फरवरी अंतिम हफ्ते तक इस कोवीशील्ड की कम से कम 10 करोड़ डोज तैयार कर लेंगे। ये जानकारी एक न्यूज चैनल से बातचीत करते हुए दुनिया के प्रमुख वैक्सीन प्रोडक्शन कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट के CEO अदार पूनावाला ने दी।

उन्होंने कहा कि अब तक 40 लाख डोज तैयार हो चुके हैं और केंद्र सरकार इसे 250 रुपए या इससे कम दाम में खरीदने के लिए तैयार है। पूनावाला ने कहा कि प्राइवेट मार्केट में कोवीशील्ड को 500 से 600 रुपए में दी जा सकती है। इससे डिस्ट्रीब्यूटर्स को फायदा भी होगा।

अमेरिका में 11 दिसंबर से वैक्सीनेशन, भारत में मार्च से शुरू होंगे
अमेरिका में 11 दिसंबर से वैक्सीनेशन शुरू हो जाएगा। उधर, ब्रिटेन, जर्मनी में भी दिसंबर से औपचारिक तौर पर टीकाकरण शुरू कर दिया जाएगा। वहीं, भारत के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने इंडिया टुडे को बताया कि भारत में वैक्सीन अगले साल के शुरुआती तीन महीनों में मिलने की उम्मीद है। सितंबर 2021 तक 25-30 करोड़ भारतीयों को टीका लगाया जा सकता है। सबसे पहले हेल्थ वर्कर्स का वैक्सीनेशन होगा।

ऑक्सफोर्ड वैक्सीन: 90% इफेक्टिव
ऑक्सफोर्ड/एस्ट्राजेनेका ने बयान जारी कर बताया कि यूके और ब्राजील में किए गए परीक्षणों में वैक्सीन (AZD1222) काफी असरदार पाई गई। आधी डोज दिए जाने पर वैक्सीन 90% तक इफेक्टिव मिली। इसके बाद दूसरे महीने में फुल डोज दिए जाने पर 62% असरदार देखी गई। इसके एक महीने बाद दो फुल डोज देने पर वैक्सीन का असर 70% देखा गया। ये वैक्सीन पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया बना रहा है।

अमेरिका: तैयारियां पूरी, 11 दिसंबर से वैक्सीनेशन
संक्रमण और मौतों के मामले में अमेरिका पहले स्थान पर है। यूएस कोविड-19 वैक्सीन टास्क के हेड मोन्सेफ सलोई ने CNN को दिए इंटरव्यू में कहा- अमेरिका में पहले व्यक्ति को वैक्सीन 11 दिसंबर को दी जाएगी। जैसे ही फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) वैक्सीन को मंजूरी देता है, हम इसे लगाने का काम शुरू कर देंगे। तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। 10 दिसंबर को FDA की अहम मीटिंग होने जा रही है। माना जा रहा है कि इसी दिन एजेंसी वैक्सीन को मंजूरी दे देगी।

स्पेन: जनवरी से शुरू करेगा वैक्सीनेशन
स्पेन के पीएम पेड्रो सांचेज ने रविवार को बताया कि देश में वैक्सीनेशन का काम जनवरी में शुरू कर दिया जाएगा। सांचेज ने कहा- हमने अपनी तरफ से तमाम जरूरी व्यवस्थाएं कर ली हैं। हम ये मानकर चल रहे हैं कि देश में जनवरी में वैक्सीनेशन शुरू होगा और तीन महीने में पूरे देश को इसके डोज मुहैया करा दिए जाएंगे। स्पेन और जर्मनी यूरोप के पहले ऐसे देश होंगे जहां कम्पलीट वैक्सीनेशन होगा। देश में कुल 13 हजार वैक्सीनेशन पॉइंट्स बनाए गए हैं।

जर्मनी: 30 लाख वैक्सीन का ऑर्डर
‘द गार्जियन’ से बातचीत में जर्मनी के हेल्थ मिनिस्टर जेन्स स्पाह्न ने कहा- यूरोप में जर्मनी और स्पेन पहले ऐसे देश हैं जिन्होंने वैक्सीनेशन के लिए पूरी तैयारी कर ली है। उम्मीद है कि अगले महीने से इस पर अमल किया जा सकेगा। दिसंबर के मध्य तक तमाम वैक्सीनेशन सेंटर्स एक्टिव हो जाएंगे। जर्मनी ने 30 लाख वैक्सीन सिक्योर करने का ऑर्डर पहले ही दे दिया है। यह हमारे लिए काफी हैं। जरूरत पड़ने पर हम अपने सहयोगी देशों को भी दे सकते हैं।

5 प्रमुख वैक्सीन का स्टेटस

वैक्सीनस्थितिकब आएगी/क्या चल रहाकीमत प्रति डोज
मॉडर्ना (अमेरिका)इमरजेंसी यूज की तैयारी, 94.5% तक असरदारदिसंबर में आ सकती है1850-2750 रु
फाइजर (अमेरिका)इमरजेंसी यूज की अनुमति मांगी, 95% तक असरदारदिसंबर में आ सकती है1450 रु
ऑक्सफोर्ड/एस्ट्राजेनेका (ब्रिटेन)UK-ब्राजील में परीक्षणों में 90% तक असरदारफरवरी में आ सकती है500-600 रु
कोवैक्सिन (भारत)तीसरा ट्रायल शुरूकरीब 26 हजार लोगों पर ट्रायल होगा-
स्पुतनिक V (रूस)दूसरे और तीसरे चरण का ट्रायल जारीदो डोज की खुराक दी जाएगीअभी तय नहीं

(नोट: वैक्सीन के 2 डोज जरूरी होंगे)

यूनिसेफ भी तैयार
यूनिसेफ ने कहा है कि हम 350 एयरलाइंस और कार्गो फ्लाइट कंपनियों से बातचीत कर रहे हैं, ताकि वैक्सीन को सही वक्त पर और सुरक्षित तरीके से देशों तक पहुंचाया जा सके। वैक्सीन के साथ लाखों सिरिंज भी होंगी। हमारा फोकस खासतौर पर बुरुंडी, अफगानिस्तान और यमन जैसे उन गरीब देशों पर है, जहां कोरोना का खतरा बढ़ता जा रहा है और उनके पास निपटने के संसाधन नहीं हैं।

अमेरिका से पहले ब्रिटेन में आ सकती है वैक्सीन
‘द गार्जियन’ के मुताबिक, फाइजर और बायोएनटेक की वैक्सीन को इस सप्ताह ही मंजूरी मिल सकती है। अगर ऐसा होता है तो दिसंबर के पहले हफ्ते में यहां वैक्सीनेशन शुरू हो सकता है। फाइजर और बायोएनटेक ने अमेरिका और यूरोपीय देशों की संबंधित संस्थाओं से वैक्सीनेशन के लिए मंजूरी मांगी है।

दोनों कंपनियों ने दावा किया था कि उनका वैक्सीन ट्रायल्स के दौरान 95% इफेक्टिव रहा और इसके कोई साइड इफेक्ट नहीं देखे गए। इसके पहले मॉडर्ना ने दावा किया था कि उसकी वैक्सीन 94.5% इफेक्टिव है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - आर्थिक स्थिति में सुधार लाने के लिए आप अपने प्रयासों में कुछ परिवर्तन लाएंगे और इसमें आपको कामयाबी भी मिलेगी। कुछ समय घर में बागवानी करने तथा बच्चों के साथ व्यतीत करने से मानसिक सुकून मिलेगा...

और पढ़ें