कोरोना संकट:यूरोपीय देशों में बढ़ी टीके की रफ्तार, रोज अमेरिका से दोगुना टीकाकरण; ब्रिटेन की रिसर्च एजेंसी ‘अवर वर्ल्ड इन डेटा’ की रिपोर्ट में दावा

4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
यूरोपीय संघ के देशों में औसतन रोज 0.8% आबादी को कोरोना का टीका लगाया जा रहा है। - Dainik Bhaskar
यूरोपीय संघ के देशों में औसतन रोज 0.8% आबादी को कोरोना का टीका लगाया जा रहा है।
  • यही रफ्तार रही तो यूरोप प्रति व्यक्ति टीकाकरण में भी आगे बढ़ जाएगा

यूरोपीय संघ (ईयू) के देशों में कोरोना टीकाकरण की रफ्तार तेज हो गई है। शुरुआत में इन देशों में सुस्ती दिखाई दी थी। अब यहां रोजाना अमेरिका की तुलना में दोगुना टीके लगाए जा रहे हैं। ब्रिटेन की रिसर्च एजेंसी ‘अवर वर्ल्ड इन डेटा’ और ‘द इकोनॉमिटस्ट’ की साझा रिपोर्ट में यह दावा किया गया है। रिपोर्ट 22 जून तक के आंकड़ों के आधार पर तैयार की गई है। इसके मुताबिक अभी यूरोपीय संघ के देशों में औसतन रोज 0.8% आबादी को कोरोना का टीका लगाया जा रहा है।

जबकि अमेरिका में यह दर 0.4% है। अगर यही रफ्तार रही तो यूरोपीय संघ के देश प्रति व्यक्ति टीकाकरण की दर में भी अमेरिका से आगे हो जाएंगे। यूरोपीय संघ के देश यह लक्ष्य 14 जुलाई तक हासिल कर सकते हैं। रिपोर्ट में एक डोज और औसतन एक हफ्ते के टीकाकरण के आधार पर गणना की गई है। यूरोपीय संघ खोए हुए समय की भरपाई करने में जुटा है।

इसलिए यहां हर महीने टीकाकरण की रफ्तार बढ़ती जा रही है। जबकि अमेरिका में टीकाकरण की रफ्तार धीमी हो गई है। दो दिन पहले व्हाइट हाउस ने कहा था कि अमेरिका तय समय में 70% वयस्कों के टीकाकरण का लक्ष्य पूरा नहीं कर पाएगा। उसे यह लक्ष्य 4 जुलाई तक पूरा करना है। हालांकि, इसके लिए बाइडेन प्रशासन तेजी से काम कर रहा है, ताकि लक्ष्य तक लक्ष्य तक पहुंचा जा सके।

45 करोड़ लोगों के लिए टीके खरीदने का लक्ष्य रखा था

(स्रोत : अवर वर्ल्ड इन डेटा, को-विन स्टेटिस्टिक्स)
(स्रोत : अवर वर्ल्ड इन डेटा, को-विन स्टेटिस्टिक्स)
(स्रोत : अवर वर्ल्ड इन डेटा, को-विन स्टेटिस्टिक्स)
(स्रोत : अवर वर्ल्ड इन डेटा, को-विन स्टेटिस्टिक्स)

ईयू: पहले सौदे में देरी से टीकाकरण धीमा रहा, फिर हर महीने बढ़ाई रफ्तार

  • यूरोपीय संघ में 27 देश हैं। ईयू ने जून 2020 में टीकाकरण के लिए केंद्रीकृत आयोग गठित किया। इसका कार्य 45 करोड़ लोगों के लिए टीके खरीदना था। लेकिन इसका खर्च बहुत ज्यादा दिख रहा था। सौदेबाजी में ही अधिक समय चला गया।
  • यूरोपीय औषधि प्राधिकरण नए टीकों को बेहद धीमी गति से मंजूरी दे रहे थे। इस वजह से यूरोपीय संघ के देश औसतन 24 मार्च तक करीब 10 प्रतिशत आबादी को टीके की एक डोज दे पाए थे। जबकि अमेरिका ने यह लक्ष्य 10 फरवरी को ही पूरा कर लिया था।

दुनिया : ब्राजील के लिए कोरोना टीके की 30 लाख डोज देगा बाइडेन प्रशासन

  • व्हाइट हाउस ने कहा कि अमेरिका कोरोना टीके की 30 लाख खुराक ब्राजील को देगा। ब्राजील में कोरोना से पांच लाख से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं। यहां रोजाना 74 हजार से ज्यादा मरीज मिल रहे हैं। देश की एक तिहाई से भी कम आबादी को टीके की एक डोज लगी है।
खबरें और भी हैं...