• Hindi News
  • International
  • Venezuelan President Maduro accused of smuggling; Those giving information for the arrest will get a reward of 112 crore rupees

फैसला / अमेरिका ने वेनेजुएला के राष्ट्रपति मादुरो पर तस्करी का आरोप लगाया, गिरफ्तारी के लिए सूचना देने वाले को 112 करोड़ रु. के इनाम की घोषणा

वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो (बीच में)। दोषसिद्ध होने पर 50 साल की जेल या अधिकतम उम्रकैद की सजा हो सकती है। -फाइल फोटो वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो (बीच में)। दोषसिद्ध होने पर 50 साल की जेल या अधिकतम उम्रकैद की सजा हो सकती है। -फाइल फोटो
X
वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो (बीच में)। दोषसिद्ध होने पर 50 साल की जेल या अधिकतम उम्रकैद की सजा हो सकती है। -फाइल फोटोवेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो (बीच में)। दोषसिद्ध होने पर 50 साल की जेल या अधिकतम उम्रकैद की सजा हो सकती है। -फाइल फोटो

  • अमेरिकी अटॉर्नी जनरल विलियम बर ने गुरुवार को इनाम की घोषणा की, राष्ट्रपति मादुरो समेत 4 लोगों के नाम शामिल
  • न्याय विभाग ने अपनी प्रेस रिलीज में मादुरो के नाम का उल्लेख एक राष्ट्रपति के बजाय सामान्य अपराधी के रूप में किया

दैनिक भास्कर

Mar 27, 2020, 05:06 PM IST

वॉशिंगटन. अमेरिका ने वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो पर अमेरिका में मादक पदार्थों की तस्करी का आरोप लगाया है। अमेरिकी अटॉर्नी जनरल विलियम बर ने गुरुवार को इसका ऐलान किया। मादुरो के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज किया है। उनकी गिरफ्तारी के लिए सूचना देने वाले को 112 करोड़ रु. (15 मिलियन डॉलर) का इनाम दिया जाएगा।

बर ने वॉइस ऑफ अमेरिका से बातचीत में कहा, ‘यह घोषणा वेनेजुएला सरकार के अंदर फैले भ्रष्टाचार पर केंद्रित है। सत्ता के शीर्ष पर बैठे लोगों ने इसके लिए तंत्र बना लिया है, जो अमीर होने के लिए उसे नियंत्रित करते हैं। वेनेजुएला सरकार, अपराध और भ्रष्टाचार से ग्रसित है।’ 

50 साल की जेल हो सकती है
न्याय विभाग ने भी अपनी प्रेस रिलीज में मादुरो के नाम का उल्लेख एक राष्ट्रपति के बजाय सामान्य आरोपी के रूप में किया है। प्रेस रिलीज में कहा कि 4 आरोपियों पर नार्को-टेररिज्म और ड्रग ट्रैफिकिंग का आरोप हैं। इसके तहत कम से कम 50 साल की जेल या अधिकतम उम्रकैद की सजा का प्रावधान है।

राष्ट्रपति मादुरो के अलावा अन्य आरोपी अधिकारियों में नेशनल कॉस्टिट्यूएंट असेंबली के प्रेसिडेंट डिओसैडो कैबेलो रोंडन, वेनेजुएला मिलिट्री इंटेलिजेंस के पूर्व डायरेक्टर जनरल ह्यूगो कार्वाजल बैरियस, वेनेजुएला आर्मी के पूर्व जनरल क्लीवर अल्काला कॉर्डोनस के साथ-साथ रिवोल्यूशनरी आर्म्ड फोर्सेज ऑफ कोलंबिया (आरएएफसी) के कई सदस्य शामिल हैं।

गिरफ्तारी के लिए विकल्प खोज रहा अमेरिका

2016 में रेवोल्यूशनरी आर्म्ड फोर्सेज ने 50 साल के संघर्ष के बाद कोलंबियाई सरकार के साथ शांति समझौते पर हस्ताक्षर किए थे। लेकिन, अमेरिकी अधिकारियों कहना है कि कई असंतुष्ट गुट मादुरो सरकार के संरक्षण में अमेरिका में ड्रग की सप्लाई में शामिल हैं। आरोप है कि वेनेजुएला के कई अधिकारी 20 सालों से ज्यादा समय से अमेरिका में कोकीन की सप्लाई कर रहे हैं। बर ने कहा कि अमेरिका मादुरो और अन्य आरोपियों को हिरासत में लेने के लिए सभी विकल्पों को खोज रहा है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना