पुतिन के खिलाफ रूस में विरोध जारी:रूसी पायलट ने फ्लाइट में कहा- यूक्रेन पर हमला क्राइम है; रशियन जर्नलिस्ट बोली- अपने देश पर शर्मिंदा हूं

9 महीने पहले

यूक्रेन पर हमले के बाद पुतिन को अपने ही देश के नागरिकों की नाराजगी झेलनी पड़ रही है। रूस में लोग युद्ध के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। इसी बीच एक रूसी पायलट ने यूक्रेन पर अपने देश के हमले की निंदा की है।

इसका वीडियो सामने आया है। इसमें पायलट ने कहा- यूक्रेन में जंग अपराध है। मुझे लगता है कि समझदार लोग मुझसे सहमत होंगे और इसे रोकने के लिए सब कुछ करेंगे। पायलट ने जंग को खत्म करने की मांग भी की है। यूक्रेन के डिप्लोमेट ओलेक्सेंडर शेरबा के मुताबिक, पायलट रूसी एयरलाइन एअरोफ्लोट की सहायक कंपनी पोबेडा का है। पायलट ने तुर्की के अंताल्या पहुंचकर यात्रियों को यह मेसेज दिया।

रूस पर शर्म आती है- पत्रकार अल्बात्स
रूस की पत्रकार येवजिनिया अल्बात्स ने भी इस हमले की निंदा की है। उन्होंने कहा- मैं शर्मिंदा हूं कि मैं जो टैक्स देती हूं उससे बम बनाए जाते हैं और ये बम यूक्रेन में गिराए जा रहे हैं। मैं सॉरी कहना चाहती हूं कि मेरा देश आप लोगों के साथ ऐसा कर रहा है।

जंग रोकने की मांग

सेंट पीटर्सबर्ग में राष्ट्रपति पुतिन के खिलाफ लोगों ने प्रदर्शन किया। रूसी पुलिस प्रदर्शनकारियों को घसीटते हुए वहां से ले गई।
सेंट पीटर्सबर्ग में राष्ट्रपति पुतिन के खिलाफ लोगों ने प्रदर्शन किया। रूसी पुलिस प्रदर्शनकारियों को घसीटते हुए वहां से ले गई।

रूस की राजधानी मॉस्को, सेंट पीटर्सबर्ग और अन्य शहरों में लोग सड़कों पर उतर कर नारेबाजी भी कर रहे हैं। रूस में यूक्रेन पर हमले की निंदा करने वाले ओपन लेटर भी जारी किए गए। रूस के अलावा जापान, हंगरी, फ्रांस, ऑस्ट्रेलिया समेत कई देशों में लोग यूक्रेन पर हमले की कड़ी निंदा कर रहे हैं। साथ ही राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन से इस युद्ध को रोकने की मांग कर रहे हैं। रविवार को रूस के 37 शहरों में प्रदर्शन हुए। इस दौरान पुलिस ने 800 से ज्यादा लोगों को हिरासत में लिया।

लड़ाई में उनके करीब 1,300 सैनिकों की मौत

25 लाख लोगों ने अब तक यूक्रेन छोड़ दिया है।
25 लाख लोगों ने अब तक यूक्रेन छोड़ दिया है।

यूक्रेन में हालात बेहद खराब होते जा रहे हैं। जंग को शुरू हुए 18 दिन बीत चुके हैं। रूसी सैनिक यूक्रेनी शहरों में मिसाइलें दाग रहे हैं। चारों तरफ तबाही का मंजर है। कई लाख लोग दूसरे देशों में शरण लेने के लिए मजबूर हो गए हैं। यूक्रेन के राष्ट्रपति वोल्दोमिर जेलेंस्की ने कहा कि अब तक लड़ाई में उनके करीब 1,300 सैनिकों की मौत हो चुकी है।

बर्लिन में 30 हजार से ज्यादा लोगों ने किया प्रदर्शन

जर्मनी की राजधानी बर्लिन में एक बार फिर रूस के खिलाफ बड़ा प्रदर्शन हुआ। रविवार को 30 हजार से ज्यादा लोग हाथ में यूक्रेन का झंडा लेकर इसमें शामिल हुए। ये सभी शीत युद्ध के दौरान विभाजित जर्मनी के प्रतीक ब्रैंडेनबर्ग गेट के पास इकट्ठा हुए। एक प्रोटेस्टर ने कहा कि हम यूक्रेन के लोगों को भूलेंगे नहीं। दो सप्ताह पहले भी इस जगह एक लाख से ज्यादा लोग सड़क पर उतरे थे।

खबरें और भी हैं...