राफेल / फ्रांस के राष्ट्रपति मैक्रों ने कहा- भारत के साथ डील के वक्त मैं सत्ता में नहीं था



इमेनुअल मैक्रों ने कहा कि मैं पूरी तरह स्पष्ट करना चाहूंगा कि यह (राफेल पर) दोनों सरकारों के बीच की बातचीत है। -फाइल इमेनुअल मैक्रों ने कहा कि मैं पूरी तरह स्पष्ट करना चाहूंगा कि यह (राफेल पर) दोनों सरकारों के बीच की बातचीत है। -फाइल
X
इमेनुअल मैक्रों ने कहा कि मैं पूरी तरह स्पष्ट करना चाहूंगा कि यह (राफेल पर) दोनों सरकारों के बीच की बातचीत है। -फाइलइमेनुअल मैक्रों ने कहा कि मैं पूरी तरह स्पष्ट करना चाहूंगा कि यह (राफेल पर) दोनों सरकारों के बीच की बातचीत है। -फाइल

  • फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांसुआ ओलांद के बयान से शुरू हुआ था विवाद
  • अोलांद ने कहा था- राफेल सौदे में साझेदार के तौर पर सिर्फ अनिल अंबानी की कंपनी का ही विकल्प दिया गया था
  • बाद में मैक्रों ने दी थी सफाई, ओलांद भी बयान से पलटे

Dainik Bhaskar

Sep 26, 2018, 01:32 PM IST

न्यूयॉर्क. फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों ने संयुक्त राष्ट्र में मंगलवार को राफेल डील को लेकर सीधा जवाब नहीं दिया। उन्होंने कहा जब भारत और फ्रांस के बीच 36 विमानों के लिए लाखों डॉलर के सौदे पर हस्ताक्षर हुए थे, तब वे सत्ता में नहीं थे। उन्होंने कहा कि यह सौदा दो सरकारों के बीच हुआ समझौता है।

COMMENT