पहले बाढ़ ने दर्द दिया, अब दिखे निशां:स्पेन में सूखा पड़ा, तो उभर आया 30 साल पहले डूब चुका गांव

मैड्रिड6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
तस्वीर स्पेन के एसेरेडो की है। - Dainik Bhaskar
तस्वीर स्पेन के एसेरेडो की है।

30 साल पहले यह गांव बाढ़ की चपेट में आ गया था। 1992 में देश बाढ़ की त्रासदी झेल रहा था। यह गांव पुर्तगाल के हाइड्रोइलेक्ट्रिक प्लांट के डूब क्षेत्र में आता था। वहां से पानी छोड़े जाने से लीमिया नदी के पानी से आसपास के क्षेत्र और इमारतों में बाढ़ आ गई थी। इसके चलते लिंडोसो जलाशय के मुहाने पर मौजूद यह गांव भी डूब गया था। तब गांव के सैकड़ों लोग पलायन को मजबूर हो गए थे। बीते कुछ सालों में बेहद कम बारिश होने के चलते यह जलाशय सूखा तो वह भूतहा गांव फिर उभर आया। यहां मौजूद मकानों के खंडहर, गलियां उस त्रासदी का दर्द बयां कर रही हैं।

दर्द झेलने वालों के बच्चे लौट रहे

जलाशय में पानी निचले स्तर पर है। ऐसे में तो बाढ़ के चलते पलायन करने वाले परिवारों के बच्चे यहां आ रहे हैं। उनमें से कुछ का कहना है कि हम अतीत देखने आए हैं। इसे सहेजना चाहते हैं, पर ये मुमकिन नहीं, क्योंकि सूखा तो खत्म होगा ही।