पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • International
  • China Sinopharm Vaccine| World Health Organization, WHO Authorized China’s Sinopharm Covid 19 Vaccine For Emergency Use

चीन को राहत:WHO ने चीन की साइनोफार्म वैक्सीन के इमरजेंसी में इस्तेमाल को मंजूरी दी, फिलीपींस ने एक दिन पहले ही इसकी खेप वापस कर दी थी

जिनेवाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
WHO ने शुक्रवार रात चीन की साइनोवैक वैक्सीन को मंजूरी दे दी। (फाइल) - Dainik Bhaskar
WHO ने शुक्रवार रात चीन की साइनोवैक वैक्सीन को मंजूरी दे दी। (फाइल)

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन ने चीन की साइनोफार्म कोविड-19 वैक्सीन के इमरजेंसी में इस्तेमाल को मंजूरी दे दी। शुक्रवार देर रात विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसकी जानकारी दी। चीन के लिए यह राहत की बात है है क्योंकि एक दिन पहले ही फिलीपींस ने चीन से इस वैक्सीन की एक हजार डोज वापस लेने को कहा था। चीन ने यह अनअप्रूव्ड वैक्सीन कई देशों को बतौर डोनेशन दी थीं। इनमें पाकिस्तान भी शामिल है। लेकिन, ज्यादातर देशों में लोग इस वैक्सीन को लगवाने से कतरा रहे हैं। चीन ने अब तक अपने यहां सिर्फ दो वैक्सीन को अप्रूवल दिया है। दूसरी वैक्सीन का नाम साइनोवैक है।

वैसे, WHO ने अपने बयान में अब तक यह नहीं बताया कि इस वैक्सीन को अप्रूवल देने में कई महीने क्यों लग गए और इस वैक्सीन की एफिकेसी कितनी है।

WHO ने क्या कहा
विश्व स्वास्थ्य संगठन के डायरेक्टर जनरल टेड्रोस एडेनहोम ग्रेब्रेसियस ने कहा- हमने अब तक जिन वैक्सीन को इमरेजेंसी यूज के लिए अप्रूवल दिया है, उस लिस्ट में साइनोफार्म को भी शामिल कर लिया है। यह बीजिंग में तैयार होती है। अब तक हमने दुनिया की 6 वैक्सीन को मंजूरी दी है। इनकी सेफ्टी, एफिकेसी और क्वॉलिटी की जांच की गई है और ये सभी पैमानों पर खरी उतरी हैं।

वैक्सीनेशन में आसानी होगी
टेड्रोस ने आगे कहा- हम चाहते हैं कि दुनिया के तमाम देशों तक वैक्सीन पहुंचे और इसके लिए हर स्तर पर प्रयास किए जा रहे हैं। हमें उम्मीद है कि सभी देशों की रेगुलेटर बॉडीज इन वैक्सीन्स की क्वॉलिटी से संतुष्ट होंगी और जरूरत के हिसाब से इम्पोर्ट कर सकेंगी।

चीन में 16 वैक्सीन पर रिसर्च
चीन में 16 कोरोना वैक्सीन पर रिसर्च और डेवलपमेंट जारी है। 2 को मंजूरी मिल चुकी है। उसने कई छोटे देशों को यही वैक्सीन डोनेट की थीं, लेकिन फिलीपींस में चीन की साइनोफार्म वैक्सीन को लेकर विवाद हो गया था। दरअसल, फिलीपींस के राष्ट्रपति रोड्रिगो दुर्तेते ने कैमरों के सामने यही वैक्सीन लगवा ली और उनकी आलोचना होने लगी। इसके बाद उन्होंने देश के लोगों से अनअप्रूव्ड वैक्सीन लगवाने के लिए माफी मांगी। इतना ही नहीं फिलीपींस सरकार ने चीन से इन वैक्सीन को वापस लेने को कह दिया है। अब WHO ने साइनोफार्म को मंजूरी दे दी है, लेकिन फिलीपींस के रेगुलेटर ने अब तक इसे हरी झंडी देने में परहेज किया है।

दिक्कत कहां हुई
चीन ने साइनोफॉर्म की 1 हजार वैक्सीन फिलीपींस को डोनेट की थीं। WHO के नियमों के अनुसार वैक्सीन बनाने वाले देश के अलावा इसे उस देश में भी मंजूरी मिलनी जरूरी है जहां ये सप्लाई हो रही है। साइनोफॉर्म को चीन में तो मंजूरी मिली, लेकिन फिलीपींस में अब तक इसे हरी झंडी नहीं मिली। राष्ट्रपति ने मीडिया के सामने बुधवार को यह वैक्सीन लगवा ली। इसके बाद उनका विरोध शुरू हो गया।

खबरें और भी हैं...