महिला ने पति को बताई खुद को कैंसर होने की बात, डॉक्टर ने भी वॉट्सऐप मैसेज कर कंफर्म किया, कहा- इलाज में लगेंगे साढ़े 4 करोड़ रु. / महिला ने पति को बताई खुद को कैंसर होने की बात, डॉक्टर ने भी वॉट्सऐप मैसेज कर कंफर्म किया, कहा- इलाज में लगेंगे साढ़े 4 करोड़ रु.

पति ने भी पत्नी के इलाज के लिए जुटा लिए करोड़ों रुपए, पर तभी कहानी में आ गया नया मोड़

dainikbhaskar.com

Dec 15, 2018, 07:12 PM IST
Woman pretended cancer and fleeced her husband and his family

लॉगबॉरो. इंग्लैंड में एक महिला ने कैंसर की बीमारी का बहाना बनाकर अपने परिवार ही नहीं अपने पति से भी सवा 2 करोड़ रुपए ऐंठ लिए। शुक्रवार को इस मामले में कोर्ट में महिला को 4 साल जेल की सजा सुनाई है। उसने अमेरिका में इलाज कराने की बात कर ये पूरा ड्रामा रचा। इस प्लान का खुलासा तब हुआ, जब महिला के पति के दोस्त को गूगल पर महिला का एक्स-रे मिला। झूठ पकड़े जाने पर महिला ने भी ड्रामा किए जाने की बात मान ली है।

पति और परिवार को करती रही गुमराह
- लॉगबॉरो की रहने वाले वाली 36 साल की जैस्मिन मिस्त्री ने 2013 में अपने पति विजय काटेचिया के सामने खुद को कैंसर होने का ड्रामा रचा और कहा कि अब उसके पास सिर्फ 6 महीने का ही वक्त बचा है।
- उसने इसे साबित करने के लिए भी पूरा प्लान बना रखा था। वो अलग-अलग सिम का इस्तेमाल कर अपने हसबैंड को डॉक्टर बनकर वॉट्सऐप मैसेज करती थी। ये सारी बातें उसे कैंसर के दावों को सपोर्ट करतीं।
- इन्हीं फेक मैसेज का इस्तेमाल करके उसने अपने पति को इस बात का भरोसा दिला दिया कि उसे कैंसर है और इसके लिए उसे अमेरिका में ट्रीटमेंट कराना पड़ेगा, जिसमें साढ़े 4 करोड़ का खर्च आएगा।
- इसके बाद उसके हसबैंड ने अपनी फैमिली और दोस्तों से इलाज के लिए मदद मांगी। जैस्मिन परिवार और पति का भरोसा न टूटे इसके लिए तरह-तरह के नाटक करती रहती थी।
- वो उल्टी का बहाना करके कई बार बाथरूम में भागती। वहीं टॉयलेट में ब्लड आने की शिकायत करती। सीढ़ियां चढ़ने और उतरने के लिए वो पति का सहारा लेती और हमेशा दर्द की शिकायत करती रहती।

ऐसे सामने आई सच्चाई
- इस मामले में पति विजय को शक तब हुआ, जब उसके दोस्त को गूगल पर जैस्मिन का ब्रैन स्कैन दिखा। पुलिस के मुताबिक, ट्यूमर बहुत गंभीर हालत में था और वो मरीज के लिए बहुत खतरनाक था। जबकि जैस्मिन की हालत इतनी गंभीर नहीं थी।
- इसके बाद विजय को अपनी वाइफ का वो फेक सिम कार्ड भी मिल गया, जिससे वो डॉक्टर बनकर पति को बीमारी के बारे में वॉट्सऐप मैसेज कर जानकारी देती थी।
- विजय ने मामले का खुलासा होने के बाद जब जैस्मिन से इस बारे में पूछा तो उसने भी झूठ बोलने की बात मान ली। साथ ही, ये भी पता चला कि उसने डेटिंग ऐप के जरिए भी दो लोगों को अपने जाल में फंसा रखा था।

इंसानियत के उठा दिया भरोसा
- आखिरकार नवंबर 2017 में जैस्मिन को पुलिस ने अरेस्ट कर लिया। पुलिस के मुताबिक, उसने अपने फैमिली और 8 बाहर के लोगों समेत 20 लोगों से सवा दो लाख रुपए ऐंठे। शुक्रवार को नॉर्थ ईस्ट लंदन की स्नेयर्सब्रुक क्राउन कोर्ट ने फ्रॉड के मामले में उसे 4 साल कैद की सजा सुनाई है।
- महिला के पति ने कोर्ट में इस मामले से बर्बाद हुई अपनी लाइफ का जिक्र करते हुए कहा, ''इसने मेरी इंसानियत से मेरे भरोसे को पूरी तरह से तबाह कर दिया है। साइकोलॉजिकली और इमोशनली मैं इससे कभी भी उबर नहीं पाऊंगा।

X
Woman pretended cancer and fleeced her husband and his family
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना