इंस्पायरिंग / 100 पशुओं के लिए फोटोग्राफर ने छोड़ दी आरामदायक जिदंगी और कामयाब करिअर



Woman Quits Career So Can Live With Over 100 Rescued Animals
Woman Quits Career So Can Live With Over 100 Rescued Animals
Woman Quits Career So Can Live With Over 100 Rescued Animals
X
Woman Quits Career So Can Live With Over 100 Rescued Animals
Woman Quits Career So Can Live With Over 100 Rescued Animals
Woman Quits Career So Can Live With Over 100 Rescued Animals

  • फोटोग्राफर दरिया ने पहले एक आंख वाले एक पप्पी को बचाया फिर इनकी संंख्या 100 तक पहुंंच गई

Dainik Bhaskar

Mar 20, 2019, 12:39 PM IST

मास्को (रूस). दरिया पुश्करेवा रूस की राजधानी मास्को की एक सफल फोटोग्राफर थीं। लेकिन, एक दिन उन्होंने शहर की अपनी आरामदायक जिंदगी को छोड़कर जंगल में रहने का फैसला कर लिया, ताकि वह वहां पर सड़कों से बचाए गए 100 पशुओं के साथ रह सकें।


पुश्करेवा बचपन से लावारिस, विकलांग या परित्यक्त कुत्तों और अन्य जानवरों के लिए एक शेल्टर होम खोलने की इच्छा रखती थी। बड़ी होने पर वह एक सफल फोटोग्राफर बन गई। इसके बावजूद उसके मन में सबकुछ छोड़कर कुछ अलग करने की भावना रहती थी। उसने सबसे पहले एक आंख वाले एक पप्पी को बचाया और इसके बाद तो यह सिलसिला ही शुरू हो गया। 

 

पशुओं के लिए घर खरीदा: एक दिन उसने मास्को से 100 किलोमीटर दूर बाहरी हिस्से में जंगल के बीच एक घर खरीदा और वह इन बचाए गए पशुओं को लेकर वहां शिफ्ट हो गई। उसके द्वारा बचाए गए पशुओं में कुत्तों के अलावा फर उद्योग से बचाई गई लोमड़ियां, रकून व कई अन्य पशु शामिल हैं। 

 

इस काम में परिवार भी साथ देता है: दरिया के पति भी उसके साथ इनकी देखभाल करते हैं। उसे कई जगहों से लावारिस पशुओं को ले जाने के लिए लोग फोन करते हैं। वे इन पशुओं के खाने के साथ ही उनके इलाज व उनकी सफाई का भी ध्यान रखते हैं। उन्होंने सभी पशुओं के रात में रहने के लिए बाड़ा बनाया हुआ है, हालांकि दिन में वे इन्हें पूरी तरह खुला रखते हैं। वे बिजली के लिए सोलर पैनल और जनरेटर का इस्तेमाल करते हैं। पुश्करेवा कहती है उसने विकलांग कुत्तों के लिए कई उपकरण भी बनाए हैं और वह लोगों को बताना चाहती है कि ऐसे पशु भी केयर करने पर लंबा जी सकते हैं।

 

aa

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना