• Hindi News
  • International
  • Court deferred the case, husband said it is not right to judge in one year of marriage, man learns by mistake

यूएई / पति झगड़ता नहीं; ज्यादा मोहब्बत से घुटन होती है, इसलिए तलाक लेने कोर्ट पहुंची महिला



Court deferred the case, husband said - it is not right to judge in one year of marriage, man learns by mistake
X
Court deferred the case, husband said - it is not right to judge in one year of marriage, man learns by mistake

  • पति ने कहा- शादी के एक साल में जज करना ठीक नहीं है, आदमी गलती से सीखता है, कोर्ट ने केस को टाला
  • पत्नी ने कहा, पति ने कभी ऊंची आवाज में बात नहीं की, खाना भी बनाकर खिलाया, काम में हाथ भी बंटाता है

Dainik Bhaskar

Aug 25, 2019, 08:38 AM IST

दुबई. आमतौर पर पति-पत्नी के बीच झगड़ों के चलते तलाक की नौबत आती है, लेकिन यूएई में ऐसा मामला आया, जिसमें झगड़ा न होने पर महिला ने पति से तलाक मांग लिया। फजराह की शरिया कोर्ट पहुंची महिला ने कहा- उसका पति शरीफ और नेकदिल है। जबसे शादी हुई है, उसने कभी भी ऊंची आवाज में बात नहीं की। उल्टा, हमेशा काम करने में मदद करता है। घर को साफ करने में हमेशा हाथ बंटाता है। पति ने कई बार खुद खाना बनाकर खिलाया। महिला ने कोर्ट में बताया कि मैं इस बेइंतहा मोहब्बत से घुटन सी महसूस कर रही हूं। सब कुछ इतना अच्छा है कि जिंदगी एक तरह से 'जहन्नुम' बन गई है।

 

पति की नेकदिली और शराफत की वजह से वैवाहिक जीवन में अभी तक कोई झगड़ा, विवाद ही नहीं हुआ। इतना सब तो कोई भी शौहर नहीं करता और यह करते हुए एक बार भी गुस्सा करना तो दूर, उसने कभी ऊंची आवाज में भी बात नहीं की। मैं सिर्फ एक ऐसा दिन चाहती थी जब वह मुझसे झगड़ा न सही, थोड़ी बहुत बहस ही कर ले, लेकिन यह भी नहीं हुआ। मेरे मियां तो हर बार मेरे बहस करने पर माफ कर देते और तोहफों से घर भर देते। मुझे एक ऐसा शौहर चाहिए था जो जिंदगी की सच्चाई को समझे, हर मुश्किल हालात पर विचार करे, कभी-कभी बहस भी करे। ऐसा नहीं जो चुपचाप मेरी सारी बातें मानता रहे। 

 

पत्नी के झगड़े की कोशिशें बेकार
महिला का कहना है कि मैंने पहल करने की कोशिश भी की कि कुछ विवाद हो जाए, लेकिन उनके साथ लड़ाई करना नामुमकिन लगा। हालांकि, कोर्ट नें यह केस टाल दिया। पति ने कोर्ट से अपनी पत्नी को केस वापस लेने की सलाह देने का आग्रह किया। उसने कहा- शादी के एक साल में जज करना ठीक नहीं है। हर व्यक्ति अपनी गलतियों से सीखता है। 

 

शौहर-जो किया, बीवी के प्यार के लिए किया, ‌वह रिश्ते के बारे में दोबारा सोचे

अदालत में महिला के शौहर ने माना कि उसने कुछ गलत नहीं किया, क्योंकि वह एक बढ़िया शौहर बनना चाहता था, ताकि बीवी को कोई शिकायत न रहे, लेकिन शायद इस प्यार ने ही उसे तलाक मांगने के लिए मजबूर कर दिया। उसने बताया कि एक बार जब बीवी ने उसके बढ़ते वजन की शिकायत की तो उसने उसे खुश करने के लिए डायटिंग और एक्सरसाइज भी की। इस चक्कर में टांग भी तुड़वा दी थी। 
 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना