• Hindi News
  • International
  • Japan's Passport Again Topper, India Slips 4 Places In The Ranking, Pakistan's Passport Is The Fourth Worst In The World

मोस्ट पॉवरफुल पासपोर्ट 2022:जापान का पासपोर्ट फिर टॉपर, भारत रैंकिंग में 4 पायदान फिसला, दुनिया में चौथा सबसे कमजोर पासपोर्ट पाकिस्तान का

वॉशिंगटन4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पासपोर्ट रैंकिंग जारी करने वाले ऑर्गनाइजेशन हेनली एंड पार्टनर्स ने 2022 के लिए हेनली पासपोर्ट इंडेक्स जारी किया है। 199 देशों में एक बार फिर जापान का पासपोर्ट टॉपर हैं। इन देशों के नागरिक वीजा के बिना ही 193 देशों में ट्रैवल कर सकते हैं।

रैंकिंग में भारत की 4 पायदान फिसलकर 87वें स्थान पर जा पहुंचा है। इसी साल की शुरुआत में जारी इंडेक्स में भारत 83वें पायदान पर था। भारतीय नागरिक 60 देशों में वीजा फ्री ट्रैवल कर सकते हैं। वहीं, पाकिस्तान के पासपोर्ट की रैंकिग उत्तर कोरिया, सोमालिया और युद्ध से जूझ रहे यमन से भी बदतर है।

रैंकिग में उत्तर कोरिया का पासपोर्ट 105, सोमालिया का 107 और यमन का 108वें पायदान पर है। जबकि, पाकिस्तानी पासपोर्ट की रैंकिंग 109वीं हैं। पाकिस्तानी नागरिक सिर्फ 32 देशों में ही वीजा फ्री ट्रैवल कर सकते हैं। पाकिस्तान के बाद आखिरी पायदान में केवल 3 ही देश बचे हैं। सीरिया 110, इराक 111 और अफगानिस्तान 112वें नंबर पर है।

पहले जानिए: कैसे तय होती है रैंकिंग
साल में दो बार यह रैंकिंग जारी की जाती है। पहली बार जनवरी और दूसरे बार जुलाई में इंडेक्स जारी किए जाते हैं। हेनली पासपोर्ट वीजा इंडेक्स की वेबसाइट के मुताबिक- पूरे साल रियलटाइम डेटा अपडेट किया जाता है। वीजा पॉलिसी में बदलाव भी ध्यान में रखे जाते हैं। डेटा इंटरनेशनल ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन (IATA) से लिया जाता है।

रैंकिंग इस आधार पर तय की जाती है कि किसी देश का पासपोर्ट होल्डर कितने दूसरे देशों में बिना पूर्व वीजा (prior visa) हासिल किए यात्रा कर सकता है। इसके लिए उसे पहले से वीजा लेने की जरूरत नहीं होगी।

भारत के नागरिक बिना पूर्व पूर्व वीजा के 60 देशों की यात्रा कर सकते हैं। पिछले साल यह संख्या 58 थी। इस महीने जुलाई में ताजिकिस्तान ने भारतीयों को बिना पूर्व वीजा के यात्रा की मंजूरी दी है।