• Hindi News
  • Jeevan mantra
  • Dharm
  • Aaj Ka Jeevan Mantra By Pandit Vijayshankar Mehta, Importance Of Planning In Life, Hanuman And Shriram Story, Ramayana

आज का जीवन मंत्र:जब कोई बड़ा काम करना हो तो उसके लिए होमवर्क अच्छी तरह कर लेना चाहिए

3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कहानी - रामायण के सुंदरकांड की घटना है। वानरों का दल सीता की खोज करते हुए दक्षिण दिशा में समुद्र तट पर पहुंच चुका था। उन्हें जानकारी मिली कि सीता जी लंका की अशोक वाटिका में हैं तो प्रश्न ये उठा कि लंका कौन जाएगा?

जामवंत, अंगद और सभी वानरों ने लंका जाने के लिए हनुमान जी की ओर देखा। हनुमान जी भी इस बड़े अभियान के लिए तैयार हो गए। राम जी की सेना के सबसे बूढ़े व्यक्ति जामवंत जी को प्रणाम करने के बाद हनुमान जी लंका की ओर छलांग लगाने के लिए तैयार थे।

हनुमान जी ने इधर-उधर देखा तो उनकी नजर समुद्र तट के एक छोटे से पहाड़ पर पड़ी। हनुमान जी उस पहाड़ पर चढ़ गए और पैरों का दबाव बनाकर जमकर छलांग लगा दी। हनुमान जी के दबाव से पहाड़ धंस गया और हनुमान जी उड़ गए।

बाद में हनुमान जी से लोगों ने पूछा, 'आपने छलांग लगाने के लिए पहाड़ को ही क्यों चुना? आप तो जहां खड़े थे, वहीं से छलांग लगा सकते थे।'

हनुमान जी ने उत्तर दिया, 'मैंने पहाड़ पर खड़े होकर छलांग इसलिए लगाई कि छलांग अगर लंबी लगाना हो तो आपका आधार मजबूत होना चाहिए। अगर आधार मजबूत नहीं होगा तो छलांग गड़बड़ा सकती है।'

सीख - हनुमान जी ने यहां हमें ये शिक्षा दी है कि किसी भी काम की शुरुआत करने से पहले हमें अपना आधार मजबूत कर लेना चाहिए यानी हमें काम से जुड़ा सारा होमवर्क अच्छी तरह कर लेना चाहिए। अगर होमवर्क ठीक से नहीं किया है तो कोई बड़ा काम हाथ में नहीं लेना चाहिए। जीवन में कई बार ऐसे प्रयोग करना पड़ सकते हैं, छलांग लगानी पड़ सकती है तो आधार हमेशा मजबूत बनाए रखना चाहिए। अगर नींव मजबूत नहीं होगी तो मकान भी कमजोर ही बनेगा। मनुष्य जीवन की नींव उसका बचपन है। तैयारियां बचपन से ही करनी चाहिए, तभी जीवन में बड़ी उपलब्धियां हासिल हो सकती हैं।