पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Jeevan mantra
  • Dharm
  • Aaj Ka Jeevan Mantra By Pandit Vijayshankar Mehta, Motivational Story Of Swami Vivekanand, Life Management Tips In Hindi

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आज का जीवन मंत्र:जब भी कोई गलती हो जाए तो उसे सुधारने के लिए जोश से नहीं, शांति से काम लेना चाहिए

17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कहानी - स्वामी विवेकानंद अमेरिका में व्याख्यान दे रहे थे। उनके सामने अधिकतर भारतीय बैठे हुए थे। उनका विषय था स्वदेशी वस्तुएं अपनाएं।

स्वामीजी देसी कपड़े पहने हुए थे। वहां मौजूद सभी लोग बड़े ध्यान से उनकी बातें सुन रहे थे। उस समय किसी का ध्यान उनके पैरों की ओर नहीं गया। विवेकानंदजी ने कपड़े तो देसी पहने थे, लेकिन उनके जूते विदेशी थे।

जब उनका व्याख्यान खत्म हुआ तो एक अंग्रेज महिला उनके पास पहुंची। महिला ने कहा, ‘स्वामीजी आपने बड़े दबाव के साथ कहा कि स्वदेशी वस्तुएं अपनाएं। मैं भी आपकी बातों से बहुत प्रभावित हुई हूं, लेकिन जब मेरी नजर आपके पैरों पर पड़ी तो मैंने देखा कि आपने जूते तो विदेशी पहने हैं। ऐसा क्यों?’

स्वामीजी ने किसी मजबूरी की वजह से विदेशी जूते पहने थे। उन्होंने अपनी मजबूरी वाली बात नहीं कही। उन्होंने कहा, ‘हमारे देश में अंग्रेजों का स्थान क्या होना चाहिए, कभी-कभी ये बताने के लिए मैं विदेशी जूते पहनता हूं।’

ये बात सुनकर सभी श्रोताओं ने तालियां बजाईं। अंग्रेज महिला के चेहरे पर भी इस बात से मुस्कान आ गई। विवेकानंदजी ने ये उत्तर देकर अपना विरोध अंग्रेजी व्यवस्था के खिलाफ प्रकट किया था, लेकिन हंसी-मजाक के साथ।

सीख - कभी-कभी जब हमसे कोई चूक हो जाती है तो लोग हमारे काम पर सवाल उठाते हैं। उस समय हमें गुस्सा नहीं करना चाहिए। चूक को सुधारने के लिए शांति से काम लें और सवाल उठाने वालों को जवाब देते समय ऐसे शब्दों का उपयोग करें, जिनसे उनके चेहरों पर मुस्कान आ जाए और हमारा उत्तर भी उन्हें मिल जाए।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आपकी मेहनत और परिश्रम से कोई महत्वपूर्ण कार्य संपन्न होने वाला है। कोई शुभ समाचार मिलने से घर-परिवार में खुशी का माहौल रहेगा। धार्मिक कार्यों के प्रति भी रुझान बढ़ेगा। नेगेटिव- परंतु सफलता पा...

और पढ़ें