पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आज का जीवन मंत्र:अपना अच्छा स्वभाव किसी और की वजह से न बदलें, दूसरों को खुद पर हावी न होने दें

एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कहानी - पुराने समय में एक राजा को हीरे खरीदने का बहुत शौक था। एक दिन उसके दरबार में हीरों का बड़ा व्यापारी आया। व्यापारी ने दरबार में दो एक समान हीरे रखे और कहा, ‘इन दो में से एक हीरा असली है और एक हीरा नकली है। आपके दरबार में बड़े-बड़े पारखी हैं, राजन् आप स्वयं हीरों की परख कर लेते हैं। क्या आप या आपके दरबार में से कोई व्यक्ति इन दो में से असली हीरे को पहचान सकता है?’

दोनों ही हीरे एक जैसे दिख रहे थे। आकार भी समान ही था। दरबारियों ने दूर से ही हीरे देखे, लेकिन कोई आगे नहीं बढ़ा। राजा को भी समझ नहीं आ रहा था कि कौन सा हीरा असली हो सकता है। उस समय दरबार में एक बूढ़ा व्यक्ति भी था, जो कि अंधा था। वह आगे बढ़ा और उसने दोनों हीरे हाथ में लेकर ध्यान से परख की।

अंधे व्यक्ति ने एक हीरा नीचे रख दिया और दूसरा हीरा व्यापारी के हाथ में दे दिया। व्यापारी अंधे व्यक्ति की परख से बहुत खुश हुआ और उसने कहा, ‘कमाल हो गया, इन्हें दिखता नहीं है, लेकिन इन्होंने असली हीरे को बड़ी आसानी से पहचान लिया।’

राजा ने अंधे व्यक्ति से पूछा, ‘आपने असली हीरे को कैसे पहचान लिया?’

अंधा व्यक्ति बोला, ‘राजन् सीधी सी बात है। असली हीरे पर आसपास के वातावरण की ठंड या गर्मी का असर नहीं होता है। वह अपने ही स्वभाव में रहता है। हीरा प्रकृति से अपना अलग संतुलन बनाकर रखता है। मौसम से प्रभावित नहीं होता है।’

सीख - अंधे व्यक्ति ने सीख दी है कि हमें हीरे की तरह होना चाहिए। हम दूसरों की वजह से क्रोधित हो जाते हैं। दूसरों से संचालित होने लगते हैं। जैसा दूसरे लोग बोलते हैं, हम वैसा ही करने लगते हैं। ऐसा नहीं करना चाहिए। हमें अपनी अच्छी बातों को दूसरों की वजह से बदलना नहीं चाहिए। हम जैसे हैं, वैसे ही रहें।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - कुछ समय से चल रही किसी दुविधा और बेचैनी से आज राहत मिलेगी। आध्यात्मिक और धार्मिक गतिविधियों में कुछ समय व्यतीत करना आपको पॉजिटिव बनाएगा। कोई महत्वपूर्ण सूचना मिल सकती है इसीलिए किसी भी फोन क...

और पढ़ें