• Hindi News
  • Jeevan mantra
  • Dharm
  • Goddess Lakshmi Is Happy With The Help Of Needy Girls, Worship Of Clothes And Money, Saraswati Worship To Bear The Cost Of Studies

जरूरतमन्द लड़कियों की मदद ही शक्ति उपासना:कपड़े और धन के दान से खुश होती हैं मां लक्ष्मी, पढ़ाई का खर्च उठाना ही सरस्वती आराधना

11 दिन पहलेलेखक: विनय भट्ट
  • कॉपी लिंक
  • दिव्यांग लड़कियों की मदद से मिलेगी महाकाली की कृपा और जरूरतमंद लड़कियों को अच्छा भोजन करवाने स प्रसन्न होंगी मां अन्नपूर्णा

नवरात्रि में देवी पूजा या व्रत-उपवास के लिए समय नहीं निकाल पाएं तो जरूरतमंद लड़कियों की मदद कर के भी इसका पुण्य मिल सकता है। देवी भागवत के मुताबिक कन्याओं को देवी का रूप माना जाता है। नवरात्रि में हर दिन कन्या पूजन किया जा सकता है। हर दिन ऐसा न कर सकें तो दुर्गाष्टमी और महानवमी तक यानी शक्ति पर्व के आखिरी दो दिनों में भी कन्याओं की पूजा करने से पूरी नवरात्रि का फल मिलता है।

जरुरतमंद लड़कियों की मदद ही शक्ति उपासना
काशी विद्वत परिषद के मंत्री प्रो. रामनारायण द्विवेदी का कहना है कि नवरात्रि में जरुरतमंद लड़कियों को कॉपी, किताब, कपड़े, धन और जरूरत की अन्य चीजों का दान करना चाहिए। साथ ही अच्छा भोजन करवाएं और फिर उनका पूजन होना चाहिए।

पुरी संस्कृत विश्वविद्यालय के डॉ. गणेश मिश्र बताते हैं कि नवरात्रि में विद्या, धन और अन्न का दान करने से महालक्ष्मी, देवी सरस्वती और मां अन्नपूर्णा प्रसन्न होंगी। लड़कियों की सुरक्षा और उनकी मदद करना ही देवी कालिका की आराधना होगी। ऐसा करने से ही नवरात्रि में शक्ति पूजा का विशेष फल मिल जाता है।

सरस्वती आराधना: पढ़ाई खर्च उठाएं
शक्ति पर्व में जरूरतमंद लड़कियों को पढ़ाई की सामग्री उपलब्ध करवानी चाहिए। विद्या, ज्ञान और वाणी की देवी सरस्वती हैं। इसलिए कॉपी-किताबें, पेन, पैंसिल और पढ़ाई संबंधी जरूरी चीजों का दान किया जाए तो देवी सरस्वती प्रसन्न होती है। एक या ज्यादा लड़कियों का पढ़ाई खर्च उठाने का संकल्प लेने से भी देवी प्रसन्न होंगी।

कालिका पूजा: दिव्यांग लड़कियों की मदद
शक्ति पूजा के इन दिनों में जरूरतमंद लड़कियों की हर तरह से मदद करनी चाहिए और उनका सम्मान करना चाहिए। लड़कियां देवी का रूप होती हैं इसलिए सुरक्षा के लिए किए गए कामों से मां कालिका प्रसन्न होती हैं। इसके लिए सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग का खर्चा उठाया जा सकता है। इसके अलावा सेहत संबंधी सुविधाएं भी दी जा सकती हैं। जरुरतमंद या बीमार लड़कियों का इलाज करवाया जा सकता है। साथ ही दिव्यांग लड़कियों को उनकी जरूरत के मुताबिक मदद देने से मां कालिका प्रसन्न होंगी।

लक्ष्मी उपासना: कपड़े और धन का दान
देवी लक्ष्मी सुख, सुविधा देने वाली और समृद्धि की शक्ति हैं। नवरात्र के दौरान जरूरतमंद लड़कियों को कपड़े, अच्छा खाना और सुख-सुविधाओं की चीजों का दान करना भी देवी की आराधना है। इसके साथ ही पैसों का भी दान किया जा सकता है। ऐसा करने से देवी लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं। जरूरतमंद लड़कियों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए उनके हुनर के मुताबिक जरूरी चीजें उपलब्ध करवाना भी देवी की आराधना है।

अन्नपूर्णा पूजा: अन्न का दान
अच्छा भोजन देवी अन्नपूर्णा की ही कृपा से मिलता है। इसलिए जरूरतमंद लड़कियों को अच्छा भोजन दिया जाए तो देवी अन्नपूर्णा प्रसन्न होंगी। साथ ही औषधियों का भी दान किया जा सकता है। नवरात्रि में कन्या भोजन करवाना भी देवी अन्नपूर्णा की उपासना ही होती है। बीमार या कमजोर सेहत वाली लड़कियों का इलाज करवाना भी देवी की ही उपासना होती है।

खबरें और भी हैं...