जाप / हनुमानजी के सामने दीपक जलाकर करना चाहिए हनुमान चालीसा का पाठ, विद्यार्थियों का ज्ञान बढ़ता है और आत्मविश्वास में बढ़ोतरी होती है

X

  • सबसे जल्दी प्रसन्न होने वाले देवता माने हैं हनुमानजी, इनकी पूजा से दूर होते हैं शनि के दोष

दैनिक भास्कर

Jun 26, 2020, 08:49 AM IST

हनुमानजी सबसे जल्दी प्रसन्न होने वाले देवता माने गए हैं। इनकी पूजा से शनि के दोष भी दूर हो सकते हैं। इसीलिए हर शनिवार शनि के साथ ही हनुमानजी की भी विशेष पूजा की जाती है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार हनुमान चालीसा का पाठ करने से आत्मविश्वास में बढ़ोतरी होती है और बुद्धि प्रखर होती है। विद्यार्थियों को विशेष रूप से इसका पाठ करना चाहिए।

विद्या प्राप्त करना चाहते हैं तो हनुमान चालीसा की एक खास चौपाई का जाप भी कर सकते हैं। चौपाई की जाप संख्या कम से कम 108 होनी चाहिए। इसके लिए रुद्राक्ष की माला का उपयोग करना चाहिए। हनुमानजी की प्रतिमा के सामने बैठकर पूजन करें और फिर चौपाई का जाप करना चाहिए। 

बिद्यबान गुनी अति चातुर। रामकाज करीबे को आतुर।।

यदि किसी व्यक्ति को विद्या चाहिए, शिक्षा के क्षेत्र में सफलता चाहिए तो इस पंक्ति का जाप करना चाहिए। इस पंक्ति के जप से हमें विद्या और चतुराई, दोनों प्राप्त हो सकती है। साथ ही, हमारे हृदय में श्रीराम की भक्ति भी बढ़ती है। इस चौपाई का अर्थ यह है कि हनुमानजी विद्यावान और गुणवान हैं। हनुमानजी चतुर भी हैं। वे सदैव ही श्रीराम के कामों को करने के लिए तत्पर रहते हैं। जो भी व्यक्ति इस चौपाई का जाप करता है, उसे विद्या, गुण, चतुराई के साथ श्रीराम की कृपा भी प्राप्त होती है।

Recommended News

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना