खगोल विज्ञान:आज रात पश्चिम दिशा में आसानी से पास-पास दिखाई देंगे चंद्र, गुरु और शुक्र

15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जो लोग खगोल विज्ञान में रुचि रखते हैं, उनके लिए आज की रात बहुत खास रहेगी। आज रात पश्चिम दिशा में चंद्र-शुक्र, पूर्व दिशा में गुरु आसानी से दिखाई देंगे।

भोपाल की खगोलविद् सारिका घारू के मुताबिक शनिवार, 9 अक्टूबर की शाम को पश्चिम दिशा में सूर्य अस्त होने के बाद चंद्र और शुक्र की जोड़ी एक साथ दिखाई देगी।

वीनस यानी शुक्र सौर मंडल का दूसरा ग्रह है। शुक्र शनिवार की रात एक घंटे से अधिक समय के लिए पश्चिम दिशा में दिखाई देगा। साथ में चंद्र दिखेगा। ये समय चमकते ग्रह शुक्र को पहचानने के लिए एकदम सही है। कोई भी व्यक्ति सामान्य आंखों से भी शुक्र को देख सकेगा। चंद्र और शुक्र के साथ ही जूपिटर यानी गुरु ग्रह भी देख सकेंगे। गुरु ग्रह तेज चमक के साथ कुछ बड़ा दिखेगा।

शनिवार की शाम ही चंद्र, गुरु और शुक्र के साथ ही शनि ग्रह को भी देखा जा सकता है। शनि ग्रह शाम को हमारे सिर के ठीक ऊपर दिखाई देगा। हालाकि शनि ग्रह की चमक काफी कम रहेगी। अगर आपके पास टेलिस्कोप है तो जुपिटर के चार चंद्रमा भी दिखाई देंगे। ध्यान रखें ये ग्रह पूरी रात दिखाई नहीं देंगे।

शुक्र ग्रह की खास बातें

सूर्य के बाद पहला ग्रह बुध है और दूसरा ग्रह शुक्र है। तीसरे नंबर पर पृथ्वी है। शुक्र ग्रह पृथ्वी के करीब 224.7 दिनों में सूर्य की परिक्रमा कर लेता है। ये ग्रह चंद्र के बाद सबसे चमकीला ग्रह है। सुबह का तारा और शाम का तारा कहा जाता है, क्योंकि ये ग्रह आमतौर पर सूर्यास्त के बाद और सूर्योदय से पहले कुछ देर के लिए ही दिखाई देता है। ज्योतिष में शुक्र ग्रह को असुरों के गुरु शुक्राचार्य के रूप में जाना जाता है। शुक्र ग्रह वृष और तुला का स्वामी है।

खबरें और भी हैं...