• Hindi News
  • Jeevan mantra
  • Dharm
  • Navratri Puja And Facts In Hindi, Navratri 2022, Traditions Of Navratri, Goddess Durga Story, Durga Puja Festival

जानें नवरात्रि की परंपराएं और देवी के नौ रूप:क्या ऋतु परिवर्तन से जुड़ा है नवरात्रि का समय? नौ दिनों तक क्यों मनाते हैं नवरात्रि और छोटी कन्याओं की पूजा क्यों करते हैं?

2 महीने पहलेलेखक: शशिकांत साल्वी
  • कॉपी लिंक

आज (26 सितंबर) से शारदीय नवरात्रि शुरू हो गई है। देवी पूजा का नौ दिवसीय पर्व 4 अक्टूबर तक चलेगा। नवरात्रि से जुड़े कुछ ऐसे सवाल हैं, जो कई लोगों के मन में उठते हैं, जैसे नवरात्रि बार-बार क्यों आती हैं, एक साल में कितनी नवरात्रियां आती हैं, देवी पूजा का ये पर्व नौ दिनों तक ही क्यों मनाया जाता है, नवरात्रि में छोटी कन्याओं को खाना क्यों खिलाते हैं, उनकी पूजा क्यों करते हैं?

ऐसे ही सवालों के जवाब जानने के लिए हमने बात की है धर्म ग्रंथों के जानकार और एस्ट्रोलॉजर पं. मनीष शर्मा (उज्जैन) से। सवाल-जवाब में जानिए नवरात्रि से जुड़ी परंपराओं का ज्ञान-विज्ञान... ये नौ दिन धर्म और विज्ञान के नजरिए से हमारे लिए कैसे फायदेमंद हैं...

देवी दुर्गा के नौ स्वरूप कौन-कौन से हैं?

नवरात्रि के नौ स्वरूपों के बारे में मार्कंडेय पुराण में बताया गया है। इस पुराण के देवी कवच में लिखा है-

प्रथम शैलपुत्री च द्वितीयं ब्रह्मचारिणी।

तृतीयं चन्द्रघण्टेती कूष्माण्डेति चतुर्थकम्।।

पंचमं स्कन्दमातेति षष्ठं कात्यायनीति च।

सप्तमं कालरात्रीति महागौरीति चाष्टमम्।।

नवमं सिद्धिदात्री च नवदुर्गाः प्रकीर्तिताः।

अर्थ - नवदुर्गा में पहली देवी शैलपुत्री हैं। दूसरी ब्रह्मचारिणी, तीसरी चंद्रघंटा, चौथी कूष्मांडा, पांचवीं स्कंदमाता, छठी कात्यायनी, सातवीं कालरात्रि, आठवीं महागौरी और नौवीं देवी सिद्धिदात्री हैं।

खबरें और भी हैं...