पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पर्व:रविवार और एकादशी के योग में विष्णजी के साथ ही सूर्य पूजा जरूर करें, गुड़ और तिल का दान करें

एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • श्रीकृष्ण ने युधिष्ठिर को बताया था सभी एकादशियों का महत्व, इस दिन तुलसी के साथ विष्णुजी को भोग लगाएं

आज 24 जनवरी को पौष मास के शुक्ल पक्ष की पुत्रदा एकादशी है। रविवार को एकादशी होने से इस दिन भगवान विष्णु के साथ ही सूर्यदेव की भी विशेष पूजा करनी चाहिए। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार इस एकादशी पर जरूरतमंद लोगों को वस्त्रों का दान करें। किसी गौशाला में धन और हरी घास दान करें।

स्कंद पुराण के एकादशी महात्म्य अध्याय में सालभर की सभी एकादशियों का महत्व बताया गया है। भगवान श्रीकृष्ण ने युधिष्ठिर से कहा था कि जो लोग एकादशी पर व्रत करते हैं और पूजा-पाठ करते हैं, उन्हें अक्षय पुण्य मिलता है। जानिए इस तिथि पर कौन-कौन से शुभ काम किए जा सकते हैं...

एकादशी पर नहाने के बाद भगवान सूर्य को जल चढ़ाएं। जल चढ़ाते समय ऊँ सूर्याय नम: मंत्र का जाप करें। मंत्र जाप कम से कम 108 बार करें।

सूर्य पूजा के बाद घर के मंदिर में या किसी अन्य मंदिर में भगवान विष्णु और महालक्ष्मी की पूजा करें। पूजा में दक्षिणावर्ती शंख से भगवान का अभिषेक करें। इसके लिए शंख में केसर मिश्रित जल भरें और भगवान को चढ़ाएं।

जो लोग इस तिथि पर विष्णु भगवान के लिए व्रत करते हैं, उन्हें इस दिन अन्न नहीं खाना चाहिए। एक समय फलाहार कर सकते हैं। किसी जरूरतमंद व्यक्ति को भोजन करवाएं और धन दान करें।

भगवान विष्णु को केले का भोग लगाएं। तुलसी के साथ मिठाई का भोग लगाएं। ऊँ नमो भगवते वासुदेवाय मंत्र का जाप 108 बार करें।

सूर्यास्त के बाद तुलसी के पास दीपक जलाएं और परिक्रमा करें। ध्यान रखें शाम के समय तुलसी को छूना नहीं चाहिए।

एकादशी पर चांदी के बर्तन से शिवलिंग पर दूध चढ़ाना चाहिए। शिवलिंग पर तांबे के लोटे से केसर मिश्रित जल चढ़ाएं। बिल्वपत्र और आंकड़े के फूल शिवलिंग पर चढ़ाएं। ऊँ नम: शिवाय मंत्र का जाप करें। सूर्यास्त के बाद शिवजी के पास घी का दीपक जलाएं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें