पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

उपासना:आज रविवार और एकादशी के योग में तिल का दान करें, दक्षिणावर्ती शंख से विष्णु-लक्ष्मी का अभिषेक करें

एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • सूर्यास्त के बाद शिवलिंग के पास, हनुमानजी के मंदिर में घी का दीपक जलाएं, हनुमान चालीसा का पाठ करें

रविवार, 7 फरवरी को माघ महीने के कृष्णपक्ष की एकादशी है। इसे षट्तिला एकादशी कहते हैं। इस दिन तिल से जुड़े शुभ काम किए जाते हैं। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार आज तिल का उबटन लगाया जाता है। पानी में तिल डालकर स्नान करने की परंपरा है। तिल से हवन किया जाता है। जरूरतमंद लोगों और मंदिर में तिल दान करते हैं।

स्कंद पुराण के वैष्णव खंड में एकादशी महात्म्य नाम का अध्याय है। इस अध्याय में सालभर की सभी एकादशियों का महत्व बताया गया है। श्रीकृष्ण ने युधिष्ठिर को सभी एकादिशयों के बारे में बताया था।

रविवार को एकादशी होने से इस दिन भगवान विष्णु के साथ ही सूर्यदेव की भी विशेष पूजा करनी चाहिए। एकादशी पर नहाने के बाद भगवान सूर्य को जल चढ़ाएं। जल चढ़ाते समय ऊँ सूर्याय नम: मंत्र का जाप करें। मंत्र जाप कम से कम 108 बार करना चाहिए।

सूर्य पूजा के बाद घर के मंदिर में या किसी अन्य बड़े मंदिर में भगवान विष्णु के साथ ही देवी लक्ष्मी का अभिषेक करें। पूजा में दक्षिणावर्ती शंख में केसर मिश्रित दूध भरें और भगवान को चढ़ाएं। वस्त्र, हार-फूल चढ़ाएं। तुलसी के पत्तों के साथ मिठाई का भोग लगाएं। केले चढ़ाएं। धूप-दीप जलाकर आरती हैं। ऊँ नमो भगवते वासुदेवाय मंत्र का जाप 108 बार करें। ध्यान रखें रविवार को तुलसी के पत्ते नहीं तोड़ना चाहिए। तुलसी के पास टूटे पत्ते उठाकर उन्हें धो लें और पूजा में उपयोग करें। तुलसी के पुराने पत्तों का उपयोग भी किया जा सकता है।

जो लोग इस तिथि पर विष्णु भगवान के लिए व्रत करते हैं, उन्हें इस दिन अन्न नहीं खाना चाहिए। एक समय फलाहार कर सकते हैं। किसी जरूरतमंद व्यक्ति को भोजन करवाएं और धन दान करें।

इस दिन सूर्यास्त के बाद तुलसी के पास दीपक जलाएं और परिक्रमा करें। ध्यान रखें शाम के समय तुलसी को छूना नहीं चाहिए।

एकादशी पर चांदी के बर्तन से शिवलिंग पर दूध चढ़ाना चाहिए। शिवलिंग पर तांबे के लोटे से केसर मिश्रित जल चढ़ाएं। बिल्वपत्र और आंकड़े के फूल शिवलिंग पर चढ़ाएं। ऊँ नम: शिवाय मंत्र का जाप करें। सूर्यास्त के बाद शिवलिंग के पास, हनुमानजी के मंदिर में घी का दीपक जलाएं। हनुमान चालीसा का पाठ करें।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप बहुत ही शांतिपूर्ण तरीके से अपने काम संपन्न करने में सक्षम रहेंगे। सभी का सहयोग रहेगा। सरकारी कार्यों में सफलता मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए सुकून दायक रहेगा। न...

और पढ़ें