पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

गणेशजी के चित्र का लाइफ मैनेजमेंट:भगवान गणपति का बड़ा सिर बताता है कि हमें अपनी सोच बड़ी रखनी चाहिए, छोटे पैरों का संदेश ये है कि हमें धैर्य बनाए रखना चाहिए

10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पूजा-पाठ के साथ ही गणेशजी के फोटो में छिपे सूत्रों को अपनाने से हमारी परेशानियां दूर हो सकती हैं

प्रथम पूज्य गणपति के स्वरूप में जीवन प्रबंधन के कई सूत्र छिपे हैं। पूजा-पाठ करने से साथ ही इन सूत्रों को समझने और इन्हें जीवन में अपनाने से हमारी कई समस्याएं खत्म हो सकती हैं। गणेशजी बुद्धि के देवता माने गए हैं। जानिए ये सूत्र कौन-कौन से हैं...

बड़ा सिर - गणेशजी का बड़ा हमें संकेत देता है कि हमेशा अपनी सोच बड़ी रखनी चाहिए। बड़ा सोचेंगे तब ही बड़ा काम कर पाएंगे।

बड़े कान- गणेशजी के बड़े कान बताते हैं कि हमें सभी की बातें बहुत ध्यान से सुननी चाहिए। हाथी जैसे बड़े कान सूप के समान हैं। जिस तरह सूप छिलके बाहर फेंककर सिर्फ अन्न को ही अपने पास रखता है। ठीक उसी तरह सभी बातें सुनें और उनका सार ग्रहण करें।

छोटी आंखें- गणेशजी की छोटी आंखें बताती हैं कि हमें छोटी-छोटी बातों पर नजर रखनी चाहिए। हमारी नजरों से कोई बारिक सी चीज भी नहीं छुटनी चाहिए।

सूंड- गणपतिजी की बड़ी नाक यानी सूंड दूर तक सूंघने में सक्षम होती है। जो उनकी दूरदर्शिता को बताती है। जिसका अर्थ है कि भगवान को हर बात की जानकारी है। हमें हमारे आसपास हो रही सभी बातों को गहराई से महसूस करना चाहिए।

एक टूटा दांत- गणेशजी का एक दांत पूरा है और दूसरा टूटा हुआ है। टूटा दांत हमें बताता है कि अगर हमारे पास की चीज का अभाव है तो उसकी वजह से निराश नहीं होना चाहिए। अपूर्णता को भी स्वीकार करें और उसके बिना भी प्रसन्न रहें।

बड़ा पेट- भगवान का बड़ा पेट ये बताता है कि हमें अच्छी-बुरी हर तरह की बात को पचा लेना चाहिए।

छोटे पैर- गणेशजी के छोटे पैरों का संदेश है कि हमें धैर्य बनाए रखना चाहिए। जल्दबाजी में कोई काम नहीं करना चाहिए।

लड्डू- छोटी-छोटी बूंदियों से मिलकर लड्डू बनता है। ये हमें एकता बनाए रखने का संकेत देता है।

अंकुश- गणेशजी के अंकुश बताता है कि हमें बुरी आदतों पर अंकुश लगाकर रखना चाहिए। क्रोध, लालच, अहंकार जैसी बुराइयों से बचना चाहिए।

कमल- गणेशजी के हाथ में कमल बताता है कि हमें कमल की तरह रहना चाहिए। कमल कीचड़ में खिलता है। बुरे लोगों के बीच में भी हमें अपनी अच्छाई नहीं छोड़नी चाहिए।

गणेशजी के आस-पास ऋद्धि और सिद्धि रहती हैं। ये इस बात का संदेश है कि जो व्यक्ति बुद्धि का सदुपयोग करता है, वह सुख-समृद्धि और शांति प्राप्त करता है। हमें भी सुखी जीवन के लिए गणेशजी के इन सूत्रों को अपने जीवन में उतार लेना चाहिए।

खबरें और भी हैं...