• Hindi News
  • Jeevan mantra
  • Jyotish
  • 4 Grah Rashi Parivartan December 2021; 4 Planet Transit | Effects Of Planetary Position On Indian Economy And Administration Aries Taurus Gemini Cancer Leo Virgo Libra Aquarius And Scorpio

इस महीने 4 ग्रहों का राशि परिवर्तन:मौसम में अचानक बदलाव होने के योग, प्राकृतिक आपदाओं की भी आंशका रहेगी

एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मंगल और राहु-केतु का अशुभ योग बनने से चक्रवाती तूफान, आगजनी और दुर्घटनाएं बढ़ने का अंदेशा भी है

दिसंबर के पहले ही हफ्ते में मंगल की चाल में बदलाव होने के बाद शुक्र फिर बुध और उसके बाद सूर्य का राशि परिवर्तन होगा। इन 4 ग्रहों के प्रभाव से देश में राजनीतिक, आर्थिक और सामाजिक बदलाव दिखेंगे। ज्योतिषीयों के मुताबिक 16 दिसंबर तक चार ग्रहों की चाल में बदलाव खास रहेगा।

पुरी के ज्योतिषाचार्य डॉ. गणेश मिश्र बताते हैं मंगल अपनी ही राशि में सूर्य, केतु और बुध के साथ है। इन ग्रहों पर राहु की दृष्टि पड़ने से अशुभ फल मिलेगा। शुक्र ग्रह राशि बदलकर अपने मित्र शनि के साथ उसी की राशि में रहेगा। ये स्थिति शुभ रहेगी। 16 दिसंबर से धनु राशि में बुधादित्य योग बनेगा। ये योग देश के लिए शुभ फल देने वाला रहेगा।

अचानक बदलेगा मौसम, प्राकृतिक आपदाओं की आंशका भी
डॉ. मिश्र के मुताबिक इस महीने के राशि परिवर्तन के कारण कई जगहों पर अचानक मौसम बदलेगा। जिसके कारण कुछ जगहों पर बर्फबारी हो सकती है। लोग परेशान रहेंगे। अनाज और खाने की चीजों की कीमतों में पहले गिरावट फिर तेजी आएगी। सेना उग्रवादियों को नियंत्रित करने के लिए अपनी विशेष मुहिम चलाएगी। जिसमें सफलता भी मिलेगी। लेखक, पत्रकार और शिक्षक वर्ग और फ्रीलांसिग काम करने वालों के लिए अच्छा समय रहेगा। विस्फोटक सामग्री या बिजली शॉर्ट सर्किट से प्राकृतिक आपदा की आंशका है। देश में दुर्घटनाएं बढ़ने की भी आंशका है।

आगजनी और दुर्घटनाएं बढ़ने का अंदेशा
सूर्य के प्रभाव से मौसम के साथ ही कई जगहों पर बड़े प्रशासनिक बदलाव हो सकते हैं। बुध और शुक्र के कारण देश की अर्थव्यवस्था में सुधार हो सकता है। हालांकि महंगाई बढ़ेगी और जनता असंतुष्ट रहेगी। मंगल ग्रह अपनी ही राशि में सूर्य और केतु के साथ रहेगा। जिससे कई जगहों पर हिंसा और अगजनी होने का अंदेशा है। मंगल के कारण सेना और पुलिस विभाग से जुड़े बड़े फैसले और घटनाएं होंगी। लेकिन देश में कुछ जगहों पर भूकंप और प्राकृतिक आपदाओं की भी आशंका है।

ग्रहों के राशि परिवर्तन का शुभ-अशुभ असर

सूर्य: ये ग्रह 16 दिसंबर को वृश्चिक से धनु राशि में प्रवेश करेगा। सूर्य के इस राशि में आते ही खर मास शुरू हो जाएगा। जिससे मांगलिक काम रूक जाएंगे। सूर्य के राशि परिवर्तन करने से कर्क, तुला, कुंभ और मीन राशि वाले लोगों के लिए अच्छा समय शुरू होगा। इनके अलावा मेष, वृष, मिथुन, सिंह, कन्या, वृश्चिक, धनु और मकर राशि वाले लोगों को संभलकर रहना होगा।

मंगल: ये ग्रह 4 दिसंबर को तुला राशि से निकलकर वृश्चिक में आ गया है। इस राशि परिवर्तन से मंगल और राहु-केतु का अशुभ योग शुरू हो गया है। साथ ही मंगल अपनी ही राशि में कुछ दिन सूर्य के साथ है। इस स्थिति शुभ प्रभाव सिर्फ मिथुन, कन्या और मकर राशि वालों पर ही रहेगा। वहीं, मेष, वृष, कर्क, सिंह, तुला, वृश्चिक, धनु, कुंभ और मीन राशि वाले लोगों को संभलकर रहना होगा।

बुध: ये ग्रह 10 दिसंबर को वृश्चिक से निकल कर धनु राशि में प्रवेश कर रहा है। बुध की चाल में बदलाव होने से वृष, कर्क, वृश्चिक, कुंभ और मीन राशि वालों पर शुभ असर रहेगा। वहीं, मेष, मिथुन, सिंह, कन्या, तुला, धनु और मकर राशियों को संभलकर रहना होगा।

शुक्र: ये ग्रह 8 दिसंबर को धनु से मकर राशि में प्रवेश करेगा। जिससे मित्र ग्रह शनि के साथ इसकी युति बनेगी। शुक्र ग्रह का प्रभाव इनकम, खर्चा, शारीरिक सुख-सुविधाएं, शौक और भोग-विलास पर होता है। ये परिवर्तन मेष, कर्क और सिंह के राशि के लिए शुभ रहेगा। इनके अलावा वृष, मिथुन, कन्या, तुला, वृश्चिक, धनु, मकर, कुंभ और मीन राशि वाले लोगों को इस ग्रह का शुभ फल नहीं मिल पाएगा।

खबरें और भी हैं...