• Hindi News
  • Jeevan mantra
  • Jyotish
  • 9 Auspicious Days For Weddings This Year: The First Auspicious Time Of The Season Is On 22 November And The Last On 9 December, From January 15 Next Year

इस साल शादियों के लिए 9 दिन शुभ:सीजन का पहला मुहूर्त 22 नवंबर और आखिरी 9 दिसंबर को, अगले साल 15 जनवरी से शुरू होंगी शादियां

6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

22 नवंबर से शादियों की शुरुआत हो रही है। 2022 के आखिरी दो महीनों में शादियों के बहुत कम मुहूर्त हैं। नवंबर में 5 और दिसंबर 4 दिन शुभ हैं। इस तरह सीजन का आखिरी विवाह मुहूर्त 9 दिसंबर को रहेगा। फिर 15 दिसंबर से खर मास शुरू हो जाएगा। इस दौरान शादियां नहीं होती। इसलिए मकर संक्रांति पर यानी 15 जनवरी 2023 विवाह मुहूर्त शुरू होंगे।

विवाह मुहूर्त के लिए तिथि, वार और नक्षत्रों के साथ ही सूर्य, गुरु और शुक्र ग्रहों की स्थिति का भी खास ध्यान रखा जाता है। जब सूर्य धनु या मीन राशि में हो तब शादियां नहीं होती। वहीं, गुरु और शुक्र ग्रह अगर अस्त हो तो भी विवाह मुहूर्त नहीं बनता है।

16 दिसंबर से शुरू होगा खरमास
हर महीने सूर्य राशि बदलता है और एक महीने तक हर राशि में रहता है। लेकिन जब ये धनु राशि में आता है तो खरमास शुरू हो जाता है। इस दौरान शादी, सगाई, गृह प्रवेश और अन्य मांगलिक कामों के लिए मुहूर्त नहीं होते हैं। इस बार 16 दिसंबर से खरमास शुरू होगा जो कि 15 जनवरी तक रहेगा। इसके खत्म होते ही शादियों का अगल सीजन शुरू हो जाएगा।

गुरु का मार्गी होना शुभ
ज्योतिष में वैवाहिक जीवन का कारक ग्रह गुरु होता है। पति-पत्नी के रिश्तों पर इस ग्रह का शुभ-अशुभ असर पड़ता है। ये ग्रह खुद की राशि में मौजूद है और 29 जुलाई से वक्री चल रहा है। यानी इतना धीमा, कि पृथ्वी से देखने पर पीछे की ओर चलता नजर आएगा। अब ये 24 नवंबर को इसी चाल में सुधार होगा। ज्योतिषीय भाषा में इसे मार्गी होना कहते हैं। गुरु की ऐसी स्थिति से भी विवाह मुहूर्त और शुभ हो जाएंगे।

शुक्र उदय होने से शुरू हुई शादियां
2 अक्टूबर को सूर्य के नजदीक आने से शुक्र अस्त हो गया था। जो कि अब 18 नवंबर को उदय हो गया है। इसी बीच देवउठनी एकादशी का अबूझ मुहूर्त भी था लेकिन शुक्र की इस स्थिति के चलते उस दिन भी शादियां नहीं हुईं। इस तरह पिछले 48 दिनों से अस्त शुक्र के उदय होने से शादियों की शुरुआत हो गई।

खबरें और भी हैं...