Hindi News »Jharkhand »Adityapur» आयकर ने चाईबासा क्षेत्र के कारोबारियों को भेजा नोटिस

आयकर ने चाईबासा क्षेत्र के कारोबारियों को भेजा नोटिस

केंद्र ने राजस्व वसूली को बढ़ाकर 379 करोड़ किया छापामारी के लिए विभाग के वरीय अधिकारियों ने गुप्त रणनीति तैयार...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 05, 2018, 02:00 AM IST

केंद्र ने राजस्व वसूली को बढ़ाकर 379 करोड़ किया

छापामारी के लिए विभाग के वरीय अधिकारियों ने गुप्त रणनीति तैयार की

भास्कर न्यूज| चाईबासा

आयकर विभाग ने जमशेदपुर, आदित्यपुर व चाईबासा क्षेत्र में लगभग 500 कारोबारियों को नोटिस भेजा है। इसमें कई ऐसे कारोबारी शामिल जो आय से कम रिटर्न दे रहे हैं। वहीं विभाग ने शिक्षा विभाग, ग्रामीण विकास विभाग, बिजली बोर्ड समेत कई विभाग के प्रमुखों को पत्र भेजकर ठेकेदारों की सूची उपलब्ध कराने की अपील की है। आयकर विभाग के ऐसे कारोबारियों व कंपनियों को नोटिस जारी कर आय के अनुसार टैक्स रिटर्न जमा करने को कहा है। वरना आयकर विभाग सर्वे करेगा और टैक्स का दावा करेगा। आयकर विभाग के प्रधान आयुक्त अविनाश किशोर सहाय ने कहा है कि जमशेदपुर अक्षेस समेत नगर निकायों से भी शहर के बिल्डरों व अन्य की सूची मांगी है। ऐसे लोगों से भी विभाग रिटर्न फाइल कराएगा।

फरवरी से लेकर मार्च तक विभाग करेगा सर्वे कार्य

आयकर विभाग फरवरी से लेकर मार्च तक लगातार सर्वे करेगा। इसके लिए संयुक्त निदेशक व आईटीओ के नेतृत्व में सर्वे टीम सक्रिय है। टीम में विश्वनाथ मांझी, अंजली लकड़ा, अजय कुमार सिंह समेत कई अधिकारी शामिल हैं, जो कहीं भी सूचना मिलने पर सर्वे करने के लिए अधिकृत किए गए हैं। इसके अलावा सर्वे टीम को अधिक जांच में नकद राशि मिली व निवेश पकड़ में आया तो ऐसे कारोबारियों के यहां आईटी की छापेमारी दल छापामारी करेगी। यह टीम आईटी के डिप्टी डायरेक्टर विजय कुमार के नेतृत्व में छापामारी करेगी, जो कारोबारियों के आवास से लेकर कंपनी कार्यालय तक सील कर छापामारी की जाएगी। छापामारी के लिए भी विभाग के वरीय अधिकारियों ने गुप्त रणनीति तैयार की है। आयकर विभाग को फरवरी व मार्च 18 के लिए केंद्र सरकार ने 254 करोड़ के राजस्व संग्रह से बढ़ाकर 379 करोड़ का लक्ष्य दिया है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Adityapur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×