--Advertisement--

ग्राम विकास समिति गठन की आम सभा में हंगामा

भवनाथपुर पंचायत के बुका गांव में ग्राम विकास समिति चयन के लिए शुक्रवार को आयोजित आम सभा में सचिव पद के चुनाव के...

Danik Bhaskar | May 26, 2018, 02:00 AM IST
भवनाथपुर पंचायत के बुका गांव में ग्राम विकास समिति चयन के लिए शुक्रवार को आयोजित आम सभा में सचिव पद के चुनाव के दौरान हंगामा के कारण पर्यवेक्षक व मुखिया के सभा स्थल से चले जाने से आक्रोशित सचिव पद के उम्मीदवार ने प्रखंड कार्यालय के समक्ष धरना दिया। आम सभा के दैारान सचिव पद के दोनों उम्मीदवारों के समर्थकों के बीच हंगामा शुरू हो गया था। इसे देखते हुए पर्यवेक्षक अशोक कुमार व मुखिया मधुलता कुमारी ने आमसभा बीच में ही छोड़ दी व वहां से उठकर चले गए। इससे आक्रोशित सचिव पद के उम्मीदवार सुरेश राउत के नेतृत्व में उनके सैकड़ों समर्थकों ने प्रखंड कार्यालय पर पहुंचकर धरना दिया। ये लोग बिना कारण बताए अधिकारियों द्वारा आमसभा रद्द किए जाने का विरोध कर रहे थे। ग्राम विकास समिति के सचिव पद के उम्मीदवार सुरेश राउत ने कहा कि आमसभा के दौरान उनके पक्ष में ग्रामीणों की भीड़ उमड़ पड़ी थी। उनकी जीत सुनिश्चित देख मुखिया द्वारा लोगों को भड़का कर आमसभा को रद्द कराने का प्रयास किया गया। उन्होंने कहा कि अगर आमसभा रद्द की गई तो सड़क जाम तथा आमरण अनशन करेंगे।

आपस में समर्थकों को खींच कर ले जाने पर हुआ विवाद : पर्यवेक्षक अशोक कुमार ने कहा कि ग्राम विकास समिति चयन में सचिव पद के दो उम्मीदवारों वरुण बिहारी यादव और सुरेश राउत ने एक दूसरे पर अपने अपने समर्थकों को पक्ष में खींच कर ले जाने को लेकर विवाद गहराने से अराजकता कि स्थिति उत्पन्न हो गई। किसी अप्रिय घटना होने की आशंका को देखते हुए आमसभा को बीच में ही छोड़ना पड़ा।

इससे पूर्व विकास समिति चयन को लेकर शुक्रवार की सुबह लगभग पांच सौ ग्रामीणों की भीड़ एकत्रित हुई थी। अध्यक्ष पद के लिए खड़े चार उम्मीदवारों में देवंती देवी पति धर्मेंद्र पासवान चयनित हुई। वहीं सचिव पद के लिए सुरेश राउत एवं वरुण बिहारी यादव ने दावेदारी पेश की। दोनों उम्मीदवारों को अपने अपने पक्ष में समर्थकों की लाइन लगाने की बात कही गई। तभी सचिव पद के उम्मीदवारों ने एक दूसरे पर अपने अपने समर्थकों को अपने पक्ष में खींचातानी का आरोप प्रत्यारोप लगाने से स्थिति कंट्रोल से बाहर हो गई। इसके चलते आमसभा को बीच में ही छोड़ कर मुखिया, चुनाव पर्यवेक्षक और अन्य प्रखंडकर्मी चले गए। इस संबंध में पूछे जाने पर बीडीओ विशाल कुमार ने बताया कि ग्राम विकास समिति गठन के लिए बुलाई गई आमसभा बीच में ही किस कारण से अधूरी रह गई है। इसकी जांच कर तथा आमसभा के दौरान कर्मियों द्वारा रिकार्ड की गई वीडियो देखने के बाद नियम संगत कार्रवाई की जाएगी।