• Hindi News
  • Jharkhand
  • Bhawnathpur
  • 25 लाख की जल मीनार के बाद भी ग्रामीणों को नहीं मिल रहा पानी
--Advertisement--

25 लाख की जल मीनार के बाद भी ग्रामीणों को नहीं मिल रहा पानी

प्रखंड अंतर्गत पंडरिया पंचायत के पानी विहीन धनीमंडरा गांव में नीर निर्मल योजनांतर्गत ग्रामीण जलापूर्ति के लिए...

Dainik Bhaskar

May 23, 2018, 02:05 AM IST
25 लाख की जल मीनार के बाद भी ग्रामीणों को नहीं मिल रहा पानी
प्रखंड अंतर्गत पंडरिया पंचायत के पानी विहीन धनीमंडरा गांव में नीर निर्मल योजनांतर्गत ग्रामीण जलापूर्ति के लिए लगभग 25 लाख की लागत से बना जल मीनार हाथी का दांत साबित हो रहा है।

16000 लीटर पानी की स्टोरेज क्षमता एवं पाइप लाईन के द्वारा 3000 मीटर सप्लाई क्षमता वाला यह जलमीनार 2017 में ही पूर्ण हो गया है। परंतु इस जलमीनार से अब तक मात्र कुछ लोगों के ही घरों में ही सप्लाई पानी मिल पा रहा है।

जलमीनार से गांव के घरों में पानी सप्लाई के लिए लगाया गया पाइप देख रेख के अभाव में कुछ ही दिनों में उखड़ चुकी है, या फट जाने से गांव के 80 प्रतिशत घरों में पानी नहीं पहुंचने से लोगों को पानी के लिए दर दर भटकना पड़ रहा है। वहीं कई ग्रामीण बताते है कि आदिवासी बाहुल धनीमंडरा गांव में कुल 75 घरो में जलापूर्ति के लिए लोगों ने कनेक्शन लिया था। लेकिन गांव के ही कुछ दबंग किस्म के लोग अपने घरो में दो दो कनेक्शन लेकर घर तथा खेतों तक पाइप लाईन बिछा कर उसके जरिए पटवन कर रहे हैं। संवेदक कई घरों में पाइप लाईन नहीं बिछाए जाने से कई घरों में विगत एक वर्ष से जलापूर्ति बंद है। बताते चलें कि आदिवासी बहुल क्षेत्र होने के कारण नीर निर्मल योजना के तहत सरकार की ओर से आदिवासियों एवं हरिजन के लिए लाखों की लागत से जल मीनार का निर्माण करवाया गया था। ताकि गरीब आदिवासी, हरिजन व जनजातियों को लाभ मिल सके। परंतु जिस उद्देश्य से सरकार का पैसा लगाया गया था। आज पूरी तरह बेकार नजर आ रहा है। इस चिलचिलाती गर्मी में लोग बूंद-बूंद पानी के लिए तरस रहे है। ग्रामीणों का कहना है कि ठेकेदार घटिया काम कर पैसा लेकर चला गया। जो यह जलमीनार दिन पर दिन हाथी का दांत साबित हो रहा है।

जल मीनार की तस्वीर।

X
25 लाख की जल मीनार के बाद भी ग्रामीणों को नहीं मिल रहा पानी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..