--Advertisement--

चापाकल में धांधली, 180 की जगह 127 फीट बोर

भवनाथपुर पंचायत के वार्ड सदस्यों की शिकायत के आलोक में डीडीसी के निर्देश पर गढ़वा से आई जांच टीम के द्वारा पंचायत...

Danik Bhaskar | Jun 08, 2018, 02:05 AM IST
भवनाथपुर पंचायत के वार्ड सदस्यों की शिकायत के आलोक में डीडीसी के निर्देश पर गढ़वा से आई जांच टीम के द्वारा पंचायत के विभिन्न जगहों पर 14 वें वित्त मद से लगाए गए चापाकल में बरती गई अनियमितता की जांच की गई। जांच टीम ने बुका गांव के रामगुलाम राउत, बसंतलाल यादव के घर के पास लगे चापाकल को खोलकर जांच की।

जिसमें चापाकल के संवेदक द्वारा तय मानक से काफी कम मात्रा में बोर करने का मामला उजागर हुआ। वहीं बुका गांव के ही सुजीत मेहता के घर के समीप लगे सरकारी चपाकल में उनका निजी कार्य एवं अपने खेत के पटवन के लिए सबमर्सिबल लगा हुआ पाया। जिस पर जांच टीम के पदाधिकारियों ने सुजीत मेहता को अविलंब सरकारी चापाकल में लगाई गई सबमर्सिबल हटाने का निर्देश दिया। इसके बाद ब्लॉक प्रांगण में लगे चापाकल की जांच की गई, जहां 180 फीट की जगह मात्र 127 फीट ही बोर किया हुआ मिला। इस संबंध में जांच करने पहुंचे कार्यपालक दंडाधिकारी यादव बैठा ने बताया कि चापाकल जांच के दौरान प्रथम दृष्टया अनियमितता बरते जाने की मामला प्रतीत हो रही है। लेकिन इसका इस्टीमेट और एमबी देखने के बाद हम कुछ निष्कर्ष पर पहुंचकर जो सही होगा।

उसका वही रिपोर्ट जिला को सौंपेंगे। बताते चले की भवनाथपुर पंचायत समेत पुरे प्रखंड में चाहे वो पंचायत के 14 वें वित्त से, जिला पार्षद कोटा या विधायक मद से लगा हुआ सार्वजनिक चपाकलों को बड़े पैमाने में दबंगो द्वारा अतिक्रमण करते हुए उसमें सबमर्सिबल लगाकर अपने घर में निजी उपयोग कर रहे है, साथ ही कई लोगो द्वारा उनके घर के पास लगी हुई सरकारी चापाकल को बाउंड्री कराते हुए अपना निजी उपयोग कर रहे है। जांच टीम में सहायक अभियंता एसके बिरुआ, सामाजिक सुरक्षा विभाग के पीयूष का नाम शामिल है।