Hindi News »Jharkhand »Bhawnathpur» यक्ष्मा रोगियों को अब पोषाहार के लिए मिलेगा पांच सौ रुपए

यक्ष्मा रोगियों को अब पोषाहार के लिए मिलेगा पांच सौ रुपए

कार्यक्रम में उपस्थित लोग। भास्कर न्यूज | रमना रमना सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में गैर संचारी रोग की रोकथाम...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jun 08, 2018, 02:05 AM IST

यक्ष्मा रोगियों को अब पोषाहार के लिए मिलेगा पांच सौ रुपए
कार्यक्रम में उपस्थित लोग।

भास्कर न्यूज | रमना

रमना सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में गैर संचारी रोग की रोकथाम के लिए सहिया को दिए जा रहे पांच दिवसीय आवासीय प्रशिक्षण का गुरुवार को समापन किया गया। इस अवसर पर जिला यक्ष्मा समन्वयक पुरुशेश्वर मिश्रा ने कहा कि भारत को 2025 तक यक्ष्मा मुक्त करने का लक्ष्य रखा गया है।

इसमें सहिया ईमानदारी पूर्वक अपनी महत्वपूर्ण भूमिका को निभाएं। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा यक्ष्मा मरीजों को दवा के साथ-साथ 500 रुपए प्रतिमाह पोषाहार के रूप में मिलेगा। जो अप्रैल 2018 से ही लागू हो गया है। इसके लिए मरीज का आधार एवं खाता संख्या लेकर सहिया अपने संबंधित स्वास्थ्य केंद्र में जमा कराएं। वहीं सहिया के 2014 से लंबित भुगतान के मामले पर उन्होंने कहा कि सहिया का लंबित राशि का भुगतान तत्काल कराया जाएगा। साथ ही यक्ष्मा रोगियों को अप्रैल एवं मई माह का पांच-पांच सौ रुपए एक साथ जल्द ही भुगतान किया जाएगा।

पांच दिवसीय प्रशिक्षण में सहिया को ब्लड प्रेशर, मधुमेह, हार्ट, मोटापा एवं कैंसर से संबंधित विषय पर विस्तार पूर्वक जानकारी देते हुए प्रशिक्षित किया गया। साथ ही प्रशिक्षण से प्राप्त जानकारी के आधार पर सहिया का लिखित एवं प्रैक्टिकल परीक्षा ली गई। यह प्रशिक्षण तीन बैच में बंशीधर नगर, रमना, विशनपुरा, भवनाथपुर एवं धुरकी के सहिया को दिया गया। मौके पर रमना अस्पताल प्रभारी डॉक्टर अरुण कुमार, प्रयोगशाला प्रावैधिक विश्वास कुमार, पीपीएम नुरुल्लाह अंसारी, सुपरवाइजर वीरेंद्र कुमार, बीटीटी संजय गुप्ता, संजय कुमार यादव, स्वास्थ दल के सदस्य मंदिश प्रसाद यादव, सहिया राजकुमारी देवी, रीता देवी, हिना बीबी, प्रतिमा देवी, चंपा देवी, रेशू देवी, शोभा देवी एवं जामवंती देवी सहित कई सहिया उपस्थित थीं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bhawnathpur

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×