• Home
  • Jharkhand News
  • Bhawnathpur
  • उद्घाटन के छह माह बाद ही मोटर खराब, नहीं िमल रहा पीने का पानी
--Advertisement--

उद्घाटन के छह माह बाद ही मोटर खराब, नहीं िमल रहा पीने का पानी

धनी मंडरा गांव में 24. 80 लाख की लागत से गांव के 450 आबादी को शुद्ध पेयजल मुहैया कराने के उद्देश्य से लगे नीर निर्मल...

Danik Bhaskar | Jun 25, 2018, 02:05 AM IST
धनी मंडरा गांव में 24. 80 लाख की लागत से गांव के 450 आबादी को शुद्ध पेयजल मुहैया कराने के उद्देश्य से लगे नीर निर्मल परियोजना के तहत जलमीनार बनाया गया था। 16800 क्षमता वाले इस टंकी से 1048 मीटर तक 55 घरों में पानी सप्लाई के लिए लगाई गई पाइप लाईन विभागीय लापरवाही के चलते देख रेख के अभाव में फट गया है। जबकि आंधी तूफान के कारण लगा हुआ सोलर भी अपने जगह से हट गया है।

15 सितंबर 2017 को विधायक भानु प्रताप शाही ने तामझाम के साथ इसकी शुरुआत की थी तो उन्होंने कहा था कि अब इस गांव के लोगों को पानी की समस्या से निजात मिल गई है, परंतु उद्घाटन के 6 माह बाद ही मोटर खराब हो जाने तथा पाइप लाईन फट जाने से यह जनोपयोगी योजना बेकार पड़ चुकी है। जिससे उक्त गांव के लोगों को मिलने वाली शुद्ध पेयजल पर भी ग्रहण लग चूका है। ग्रामीणों द्वारा इसकी कई बार शिकायत करने पर भी विभागीय लोग चुप्पी साधे हुए है। वीडब्ल्यूएससी के अध्यक्ष ललती देवी, सर्वेश पासवान, राजू बियार, रामचंद्र पासवान, मनोज बियार, सरिता देवी, अनरवा देवी, अरुण बियार समेत कई लोगों ने बताया कि एक वर्ष तक इसकी देख रेख का जिम्मा संवेदक का था। पाइप लाईन फटने एवं मोटर खराब होने की जानकारी ग्रामीणों द्वारा उन्हें कई बार दी गई है। लेकिन किसी ने एक न सुनी। कहा कि जो स्थिति पहले थी वही स्थिति अब भी बनी हुई है।