• Home
  • Jharkhand News
  • Bhawnathpur
  • होटल संचालक के पुत्र की गला दबाकर हत्या, बंद रहा खरौंधी
--Advertisement--

होटल संचालक के पुत्र की गला दबाकर हत्या, बंद रहा खरौंधी

खरौंधी प्रखंड मुख्यालय में चांदनी गेट के पास होटल संचालक के पुत्र ब्रजेश पासवान (22) की गला दबाकर हत्या कर दी गई।...

Danik Bhaskar | Jul 10, 2018, 02:05 AM IST
खरौंधी प्रखंड मुख्यालय में चांदनी गेट के पास होटल संचालक के पुत्र ब्रजेश पासवान (22) की गला दबाकर हत्या कर दी गई। घटना रविवार की रात की बताई जा रही है। घटना की सूचना मिलने के बाद ग्रामीणों ने सोमवार की सुबह खरौंधी बाजार बंद कर दिया। साथ ही सड़क जाम कर पुलिस प्रशासन से प्रभावित परिवार के लोगों को मुआवजा व घटना में शामिल लोगों की गिरफ्तारी की मांग करने लगे। बाद में पुलिस के आश्वासन के बाद ग्रामीणों का आंदोलन समाप्त हुआ।

तब जाकर स्थिति सामान्य हुई। ब्रजेश की मौत की जानकारी लोगों को उस समय हुई जब उसकी मां सोमवार की सुबह होटल में झाड़ू लगाने पहुंची। जैसे ही वह होटल में प्रवेश की पास में ही ब्रजेश का शव पड़ा हुआ पाया। इसके बाद उसकी मां की रोने की आवाज सुनकर आसपास के लोग वहां इक्कठा हो गए। घटना से आक्रोशित जनप्रतिनिधियों, ग्रामीणों तथा महिलाओं ने बाजार की दुकानों को बंद करते हुए सुबह सात बजे से रोड जाम कर दिया। व्यवसायियों ने हत्या के विरोध में पूरे दिन अपनी दुकानें बंद रखीं। बंद करा रहे लोग पुलिस से खोजी कुत्ता मंगाकर हत्या की जांच कराने व हत्या में शामिल लोगों के ऊपर कड़ी कार्रवाई की मांग कर रहे थे। सड़क जाम कर रहे लोगों का कहना था कि खरौंधी में अभी तक कई हत्याएं हुई। लेकिन पुलिस किसी घटना का खुलासा नहीं कर सकी। इस मौके पर विधायक प्रतिनिधि उपेंद्र दास, प्रखंड प्रमुख धर्मराज पासवान, नसंमो प्रखंड अध्यक्ष संध्याकर विश्वकर्मा, सांसद प्रतिनिधि देवदत्त प्रसाद, भाजपा नेता बसंत कुमार यादव, उपप्रमुख गोरखनाथ चौधरी, खरौंधी मुखिया उपेंद्र कुमार भारती, इंदल पासवान, रामखेलावन पासवान, गीता देवी, मुखराज कुंवर, सूरजी कुंवर समेत बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

घटना के बाद सड़क जाम करते आक्रोशित ग्रामीण।

आश्वासन व खोजी कुत्ता के आने के बाद लोगों ने सड़क जाम हटाया

घटना की सूचना पाकर थाना प्रभारी अशोक कुमार मंडल मौके पर पहुंचे। उन्होंने मामले की जांच शुरू की। उन्होंने ग्रामीणों को काफी समझाने का प्रयास किया। लेकिन लोग नहीं माने। घटना की सूचना पाकर भाजपा नेता व पूर्व विधायक अनंत प्रताप देव तथा जेवीएम नेता पूर्व मंत्री रामचंद्र केसरी खरौंधी पहुंचे। दोनों ग्रामीणों के साथ जामस्थल पर बैठ गए। भवनाथपुर पुलिस इंस्पेक्टर उमेश कुमार सिंह तथा बंशीधर नगर एसडीपीओ नीरज कुमार खोजी कुत्ता लेकर शाम चार बजे घटना स्थल पर पहुंचे और हत्याकांड की जांच शुरू की। तब जा कर आक्रोशित ग्रामीणों ने सड़क जाम हटाया