• Home
  • Jharkhand News
  • Bhawnathpur
  • डीसी ने शौचालय निर्माण के लिए 13 प्रखंडों को दिया लक्ष्य
--Advertisement--

डीसी ने शौचालय निर्माण के लिए 13 प्रखंडों को दिया लक्ष्य

उपायुक्त डाॅ. नेहा अरोड़ा ने शनिवार को अधिकारियों व पदाधिकारियों के साथ समाहरणालय स्थित सभागार में स्वच्छ भारत...

Danik Bhaskar | Jun 24, 2018, 02:10 AM IST
उपायुक्त डाॅ. नेहा अरोड़ा ने शनिवार को अधिकारियों व पदाधिकारियों के साथ समाहरणालय स्थित सभागार में स्वच्छ भारत मिशन की समीक्षा बैठक की। बैठक से अनुपस्थित चिनियां प्रखंड के समन्वयक तृप्ता भानू व गौरव कुमार से शो कॉज किया है। उन्होंने 30 जून को जिले को खुले से शौच मुक्त करने के लिए युद्ध स्तर पर कार्य करने का निर्देश दिया है।

जिले के सभी प्रखंडों के निष्क्रिय स्वच्छता दूतों को चिह्नित कर हटाने का निर्देश दिया है। साथ ही उपायुक्त ने एक सप्ताह के अंदर 13 प्रखंडों को शौचालय निर्माण कराने का लक्ष्य दिया है। उपायुक्त ने प्रत्येक प्रखंड में प्रत्येक दिन कम से कम 100 शौचालय निर्माण कराने का निर्देश दिया है।

उपायुक्त ने कहा कि शौचालय निर्माण को लेकर जिले के सभी मुखिया, जल सहिया तथा स्वच्छता ग्राही को तीन दिवसीय प्रशिक्षण देने का निर्देश प्रखंड समन्वयक व प्रखंड मोबलाइजर को दिया है। उपायुक्त ने कहा कि जिले को खुले से शौच मुक्त करने के लिए निर्धारित तिथि 30 जून तक हर हाल में निर्माण कार्य पूर्ण कर लेना है। इस कार्य में लापरवाही बरतने वाले पदाधिकारियों व कर्मियों को किसी भी हालत में बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने कहा कि जिले वैसे 45 पंचायत जहां स्वच्छता कवरेज का कार्य 10 प्रतिशत से कम हुआ है। वहां स्वच्छता ग्राही को भेजने का निर्देश सभी संबंधित प्रखंडों के बीडीओ को दिया है। बैठक के दौरान उपायुक्त ने मुख्यमंत्री जन संवाद से जुडे लंबित मामलों का निष्पादन दो दिनों के अंदर करने का निर्देश बीडीओ को दिया है। बैठक में पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के कार्यपालक अभियंता राधेश्याम रवि, उप विकास आयुक्त चंद्र मोहन कश्यप, डीआरडीए के परियोजना पदाधिकारी सिया जानकी सिंह, महालक्ष्मी, सदर प्रखंड के बीडीओ जागो महतो आदि उपस्थित थे।

बैठक से अनुपस्थित चिनियां प्रखंड के समन्वयक तृप्ता भानू और गौरव कुमार से मांगा गया स्पष्टीकरण

बैठक करतीं उपायुक्त डाॅ. नेहा अरोड़ा।

एक सप्ताह के अंदर शौचालय निर्माण का लक्ष्य

गढ़वा प्रखंड में 1100, रमना 500, रंका में 1500, रमकंडा में 500, चिनियां में 800, भवनाथपुर में 700, बंशीधर नगर में 1000, डंडई में 1500, कांडी में 1000, भंडरिया में 500, बड़गढ़ में 286, खरौंधी प्रखंड में 1000 तथा मझिआंव प्रखंड को 28 जून तक खुले से शौच मुक्त करने का निर्देश दिया गया है।