• Home
  • Jharkhand News
  • Bokaro News
  • उत्कल दिवस पर उड़िया संस्कृति को बचाने का लिया संकल्प
--Advertisement--

उत्कल दिवस पर उड़िया संस्कृति को बचाने का लिया संकल्प

शहर में रहने वाले उड़िया समाज के लोगों ने रविवार को उत्कल दिवस मनाया। इस मौके पर जगन्नाथ मंदिर में पूजा-अर्चना की...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 02:10 AM IST
शहर में रहने वाले उड़िया समाज के लोगों ने रविवार को उत्कल दिवस मनाया। इस मौके पर जगन्नाथ मंदिर में पूजा-अर्चना की गई। हस्त शिल्प निगम की ओर से मंदिर परिसर स्थित गीता भवन में प्रदर्शनी लगाई गई। प्रदर्शनी में हस्त निर्मित विभिन्न प्रकार के वस्त्रों एवं कलाकृतियों को प्रस्तुत किया गया। लोगों ने उड़िया संस्कृति को अक्षुण्ण रखने का संकल्प लिया। प्रदर्शनी का उद्घाटन बोकारो इस्पात संयंत्र के कार्यकारी निदेशक एचपी सिंह ने किया।

अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि इस प्रकार के आयोजनों से दूसरे राज्यों की कला और संस्कृति काे एक मंच पर लाने का मौका मिलता है। इससे कला और संस्कृति का आदान-प्रदान होता है। एक विकसित राज्य और जिले की मुख्य पहचान भी कला संस्कृति के जुड़ाव में ही निहित है। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता उत्कल सेवा समिति के अध्यक्ष डॉ. जीएन साहू तथा संचालन सचिव डॉ. यू. मोहंती ने किया। इस मौके पर डॉ. आरएन प्रधान, पीएन कॉल, केदार पांडा आदि उपस्थित थे।

भगवान जगन्नाथ की पूजा करती महिलाएं।

आयोजन के दौरान कलाकृति देखती महिलाएं।