पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • सर्वेक्षण करने वाले पंचायत स्वयंसेवकों को मिलेगा प्रत्येक परिवार पर 50 रुपए का मानदेय

सर्वेक्षण करने वाले पंचायत स्वयंसेवकों को मिलेगा प्रत्येक परिवार पर 50 रुपए का मानदेय

4 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जिलेके सभी पंचायत स्वयं सेवक विधवा और वृद्धा पेंशन के हकदारों का सर्वेक्षण करेंगे। इनके सर्वेक्षण के आधार पर ही सही लोगों को पेंशन का लाभ मिलेगा। सर्वेक्षण के बाद लाभुकों की आॅनलाइन इंट्री होगी। इसके बाद आवश्यकता अनुसार कागजातों की मांग कर उन्हें सरकारी योजनाओं का लाभ दिया जाएगा। झारखंड राज्य पंचायती राज विभाग की सचिव वंदना डाडेल ने पंचायती राज पदाधिकारी को इसके लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिया है। उन्होंने कहा है कि पारिवारिक सर्वेक्षण करने वाले पंचायत स्वयं सेवकों को प्रत्येक परिवार 50 रुपए की दर से मानदेय भुगतान किया जाएगा। वहीं स्वयं सेवक अपने पंचायत के 100 ऐसे युवाओं का चयन करेंगे, जिन्हें कौशल विकास का प्रशिक्षण देकर स्वरोजगार के लिए प्रेरित किया जाएगा। साथ ही सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के तहत गांवों का सर्वेक्षण कार्य में पंचायत स्वयं सेवकों की भूमिका का आकलन कर कार्य विस्तार करने करने का निर्देश सचिव ने दिया है। सचिव ने डीपीआरओ को निर्देश दिया है कि जिन पंचायत स्वयं सेवकों का काम ठीक है उनका कार्य बंटवारा करें। सचिव ने पंचायतों को दी गई राशि के खर्च का विवरण एवं कार्यों के मूल्यांकन के लिए प्रत्येक महीने बीडीओ से प्रतिवेदन लेने काे कहा है। पंचायत सचिवालय के माध्यम से पंचायत स्वयं सेवक ही अब जाति, आवासीय, आय प्रमाण पत्र, बैंकिंग कार्य सहित 14 सरकारी विभागों का काम करेंगे। ये गांव में रहने वाले बेघर, अनाथ, विधवा, दिव्यांग, बेरोजगार आदि की गिनती करेंगे। ताकि सर्वे के माध्यम से गांव की सही तस्वीर उभर कर सामने आए। पंचायत स्वयं सेवक विभिन्न विभागों एवं योजनाओं, कार्यक्रमों तथा परियोजनाओं की जानकारी जनसाधारण को देंगे एवं वातावरण निर्माण में अपेक्षित सहयोग करेंगे। साथ ही ग्रामसभा या ग्राम पंचायत की स्थायी समितियां एवं बैठकों के आयोजन में सहयोग करेंगे। उन्हें पंचायत सचिवालय द्वारा योजना का क्रियान्वयन में कृषि, लघु सिंचाई, कल्याण, महिला बाल विकास एवं सामाजिक सुरक्षा, वन, ग्रामीण विकास से जुड़े कामों की जानकारी लोगों को देनी है।

स्वयं सेवकों को दिया गया है प्रशिक्षण

^पंचायतस्वयंसेवकों से पंचायतों के सारे काम लिए जा रहे हैं। इसके लिए इन्हें प्रशिक्षण भी दिया गया है। प्रशिक्षण में उन्हें उनके दायित्व की जानकारी दी गई है। पंचायत स्वयंसेवकों को पंचायत की सारी सूचनाएं विभाग तक पहुंचानी है।” नीरजकुमार सिंह,जिला पंचायती ,राज पदाधिकारी, बोकारो।

सर्वेक्षण के आधार पर मिलेगा पेंशन का लाभ

खबरें और भी हैं...