• Home
  • Jharkhand News
  • Bokaro News
  • अनिल चौधरी होंगे सेल के नए चेयरमैन जुलाई 2018 में ग्रहण करेंगे पदभार
--Advertisement--

अनिल चौधरी होंगे सेल के नए चेयरमैन जुलाई 2018 में ग्रहण करेंगे पदभार

स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (सेल) के नए चेयरमैन अनिल कुमार चौधरी होंगे। लोक उद्यम चयन बोर्ड ने एक मार्च को...

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 02:10 AM IST
स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (सेल) के नए चेयरमैन अनिल कुमार चौधरी होंगे। लोक उद्यम चयन बोर्ड ने एक मार्च को इंटरव्यू के बाद उनके नाम की अनुशंसा कर दी है। मंत्रालय से आदेश जारी होने के बाद वर्तमान सेल चेयरमैन पीके सिंह के रिटायर होने के बाद पदभार ग्रहण करेंगे। अभी वे सेल में ही निदेशक (वित्त) के तौर पर काम कर रहे हैं। इंटरव्यू में चौधरी के अलावा चार अन्‍य सदस्‍यों ने हिस्‍सा लिया था। इसमें एमओआईएल के निदेशक के तन्मय कुमार पटनायक, सेल के कार्यकारी निदेशक आलोक सहाय, सेल की ही निदेशक (विपणन) सोमा मंडल और सेंट्रल इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड के सीएमडी डॉ. नलिन सिंघल ने हिस्‍सा लिया था।

चौधरी 31 अगस्त 2011 तक सेल के बोकारो स्टील प्लांट में कार्यकारी निदेशक (एफएंडए) के रूप में काम कर चुके हैं। बोकारो स्टील प्लांट में आने से पहले, उन्होंने सेल कार्पोरेशन में महाप्रबंधक (एफएंडए) के रूप में काम किया था।

चौधरी वर्ष 1984 में जूनियर प्रबंधक (एफएंडए) के रूप में नई दिल्ली में काम कर चुके हैं। इन्होंने सेल में अपने करियर के दौरान कई काम पूरे किए हैं। इन्होंने ट्रेजरी और बैंकिंग संचालन, विदेशी मुद्रा प्रबंधन, पूंजी बजट, लागत और संचालन बजट, वित्तीय सहमति में योगदान दिया है।

अनिल कुमार चौधरी की फाइल फोटो।

जून 2018 में रिटायर करेंगे वर्तमान सेल चेयरमैन पीके सिंह

सेल के अधिकारियों को छह मार्च को मिलेगा पीआरपी

बोकारो | सेल के अधिकारियों के बकाया पीआरपी का भुगतान छह मार्च से किया जाएगा। सेल ने इस पर सहमति दे दी है। यह जानकारी देते हुए बोकाराे स्टील आफिसर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष एके सिंह ने बताया कि सेल अधिकारियों की यह बहुत पुरानी मांग थी। 2013-14 और 2014-15 में सेल के अधिकारियों को परफार्मेंस रिलेटेड पे 75 प्रतिशत भुगतान किया गया था। इसके 25 प्रतिशत का भुगतान छह मार्च को किया जाएगा। इसके बाद के वर्षों का जो पीआरपी मिला है, उसकी रिकवरी बाद में होगी। सेल के इस निर्णय से बीएसएल के करीब दो हजार अधिकारियों को लाभ मिलेगा। सिंह ने कहा कि बीएसओए के प्रयास से इस समस्या का समाधान हुआ।