--Advertisement--

बिजली बिल में नहीं हो रहा सुधार, उपभोक्ता परेशान

विद्युत प्रमंडल चास के कार्यालय में चार-चार दिन तक बिजली बिल में सुधार नहीं होता है। इसका खामियाजा उपभोक्ताओं को...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 03:00 AM IST
विद्युत प्रमंडल चास के कार्यालय में चार-चार दिन तक बिजली बिल में सुधार नहीं होता है। इसका खामियाजा उपभोक्ताओं को भुगतना पड़ता है। ये बिल में सुधार के लिए विभाग के चक्कर काटते रहते हैं। ऐसे में उपभोक्ताओं के समय की बर्बादी तो होती ही है, उन्हें मानसिक परेशानी का भी सामना करना पड़ता है। यह समस्या तब से आई है जब से बिजली विभाग को निजी एजेंसी के हवाले किया गया है। एजेंसी वाले कभी भी समय पर बिल नहीं देते हैं और अचानक तीन-चार महीने में दस से पंद्रह हजार का बिल थमा देते हैं। बिल मिलने के बाद उस पर अंकित राशि देखते की उपभोक्ता परेशान हो जाते हैं। सब काम छोड़ कर इसमें सुधार के लिए विभाग में पहुंचते हैं। इधर विभाग के आला अधिकारी कहते हैं कि बिल के विपत्र में हुई गड़बड़ी में सुधार वे आधे घंटे के भीतर कर देते हैं।

राइट टू सर्विस एक्ट के तहत बिजली बिल में हुई गड़बड़ी की सुधार मात्र 24 घंटे में करना है। पर यहां तो चार चार दिन में भी विपत्र में सुधार नहीं हो पाता है।

आधे घंटे में बिल की गड़बड़ी में सुधार


X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..