Hindi News »Jharkhand »Bokaro» न किसी का आदेश न ही किसी ने पाबंदी लगाई फिर भी एक रुपए के छोटे सिक्कों पर लगी रोक

न किसी का आदेश न ही किसी ने पाबंदी लगाई फिर भी एक रुपए के छोटे सिक्कों पर लगी रोक

डीबी स्टार

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 01, 2018, 03:35 AM IST

डीबी स्टार बोकारो

न किसी का कोई आदेश आया है और न ही कोई पाबंदी लगाई है, फिर भी एक रुपए के छोटे सिक्के के लेन-देन के प्रचलन को अघोषित रूप से बंद कर दिया गया है। यह नकारात्मक व्यवहार कमोबेश व्यवसायी व ग्राहक दोनों तरफ से जारी है। बोकारो मॉल में जहां एक रुपए के छोटे सिक्कों का लेन-देन हो रहा है, वहीं चास के सब्जी बाजार और छोटे दुकानदार एक रुपए के छोटे सिक्के लेने से इंकार कर रहे हैं। उनका कहना है कि ग्राहक भी छोटे सिक्के नहीं ले रहे हैं। छोटे सिक्कों के बंद होने की अफवाह किसने फैलाई, इसका खुलासा अभी नहीं हुआ है।

बाजार में एक रुपए के दो सिक्के

रिजर्व बैंक ने आम आदमी की जरूरत के मद्देनजर बाजार में एक रुपए का दो सिक्का उतारा है। एक रुपए का एक सिक्का बड़ा आकार का है तो दूसरा छोटे साइज में है। बड़ा सिक्का धड़ल्ले से बाजार में लेन-देन किया जा रहा है, लेकिन छोटे सिक्का को लेन-देन से इंकार किया जा रहा है। छोटे सिक्के की अघोषित बंदी पर हर कोई सिर्फ इतना कह रहा है कि सरकार ने इस पर रोक लगा दी है।

मॉल में रोक नहीं, सब्जी दुकानदार लेने से कर रहे हैं इंकार

मनाही की बात छोटे सिक्के दिखाता सब्जी विक्रेता।।

दुकानदार सिक्के को ले परेशान हैं

शहर के डेढ़ दर्जन से ज्यादा छोटे-बड़े व्यवसायी अपने पास एकत्रित एक रुपए के छोटे सिक्के दिखाते हुए परेशान हैं। उनका कहना है कि पता नहीं किसके आदेश से एक रुपए के छोटे सिक्के के प्रचलन पर रोक की चर्चा की जा रही है। वे कहते है कि ग्राहक एक रुपए के छोटे सिक्के देने के सवाल पर झगड़े पर उतारू हो जा रहे हैं, लेकिन जब हम उन्हें वहीं एक रुपए की सिक्के लौटाते हैं तो वे नहीं लेने की तर्क पर अड़ जाते हैं। ऐसे में कैसे व्यवसाय कर पाएंगे।

सिक्कों के प्रोडक्शन पर लगी है रोक

केंद्र में मोदी सरकार ने आर्थिक मोर्चे पर बड़े रिफॉर्म वाले फैसले लिए हैं। नोएडा, मुंबई, कोलकाता और हैदराबाद के सरकारी टकसालों में सिक्कों का प्रोडक्शन बंद हो गया है। भारत सरकार की ओर से इन चारों जगहों पर ही सिक्के बनाए जाते हैं। इसके पीछे तर्क दिया जा रहा है कि नोटबंदी के बाद काफी संख्या में सिक्के बनाए गए थे। जो कि अभी तक आरबीआई के स्टोर में काफी संख्या में उपलब्ध हैं। इसी कारण आरबीआई के अगले आदेश तक सिक्कों का प्रोडक्शन रोक दिया गया है।

एलडीएम रोक से कर रहे हैं इंकार

जिले के अग्रणी बैंक के प्रबंधक दिलीप मजूमदार ने कहा कि एक रुपए के छोटे सिक्के के लेन-देन पर किसी तरह की रोक नहीं है। यह बात बेतुकी और बकवास है। उन्होंने कहा कि बाजार में किसी भी मुद्रा यानी रुपया-पैसा पर रोक की जानकारी रिजर्व बैंक द्वारा आधिकारिक तौर पर दी जाती है। इसके लिए मीडिया में लगातार प्रचार कराया जाता है। ऐसी कोई शिकायत नहीं मिली है। यदि कोई शिकायत मिलती है तो सूचना के आधार पर कार्रवाई हो सकती है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Bokaro

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×