बोकारो

  • Home
  • Jharkhand News
  • Bokaro News
  • Bokaro - चार अंकों के क्यू-ए कार्ड से ऑनलाइन ट्रांजेक्शन, टोल फ्री कॉल पर डाक विभाग के कर्मी घर पहुंचाएंगे रकम
--Advertisement--

चार अंकों के क्यू-ए कार्ड से ऑनलाइन ट्रांजेक्शन, टोल फ्री कॉल पर डाक विभाग के कर्मी घर पहुंचाएंगे रकम

डीबी स्टार

Danik Bhaskar

Sep 13, 2018, 02:15 AM IST
डीबी स्टार
इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक के खाताधारकों के लिए खुशखबरी है। अब ग्राहक घर बैठे टोल फ्री नंबर से लेनदेन कर सकते हैं। ग्रामीण इलाके में डाकघरों में खाता खोलवाने वाले ग्राहकों को यह सुविधा मिलेगी यह बैकिंग सेवा से जुड़े संस्थानों की अपेक्षा ज्यादा आसान है। इस सुविधा का लाभ सबसे पहले इंडिया पोस्ट पेमेंट बैक में खाता खोलवाने वाले ग्राहकों को मिलेगा। इसके लिए इसी महीने में विभाग की ओर से टोल फ्री नंबर जारी करने की तैयारी है। खाता धारक के उंगलियों के निशान लेकर घर पहुंच नकदी लेने की प्रक्रिया का लाभ लेने वालों ग्राहकों का प्रोसेस कराने के साथ ही उन्हें क्यू-ए नंबर दिया जाएगा। इसमें चार अंकों का नंबर होगा।

प्रधान डाकघर बोकारो में खुला है इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक।

जानिए कैसे बनेगा ग्राहकों का क्यू-ए कार्ड

ऐसे ग्राहक जिन्होंने इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक और डाकघरों में खाता खुलवाया है। साथ ही उसे ऑनलाइन कराने के बाद एटीएम लिए हैं। अगर ऐसे ग्राहक चाहे तो उनको पैसे निकालने और जमा करने के लिए बैंक या डाकघर जाने की जरूरत नहीं है। क्योंकि अब उनके लिए घर पहुंच करेंसी देने की नई व्यवस्था शुरू होगी। इसमें जिन लोगों को विभाग ने एटीएम जारी किए हैं। उन्हीं के डिजिट के चार अंकों से क्यू-ए नंबर बनाया जाएगा। इसे बैकिंग से लिंक करने के बाद ग्राहक के उंगलियों के निशान लेकर सिक्योर किया जाएगा। बाद में टोल फ्री नंबर पर कॉल करने से डाक कर्मचारी उनके पास भुगतान करने पहुंचेंगे।

गोपनीयता के साथ सुरक्षित भी रहेगा लेनदेन

डाक घर के खाता धारकों के लिए अच्छी खबर है। अब आपको क्रेडिट और डेबिट के लिए इधर-उधर भटकने की जरूरत नहीं पड़ेगी। टोल फ्री नंबर पर कॉल करने पर कर्मचारी घर पर आएंगे और क्यू-ए कार्ड से क्रेडिट और डेबिट कर सकेंगे। हकीकत यह भी है कि विभाग किसी भी प्रकार की खामी नहीं होने पाए, इसके लिए ग्राहक और विभाग के बीच गोपनीयता बनाए रखने के लिए कई पंच पाइंट तय किए हैं। ग्राहक क्यू-ए नंबर जारी करने से पहले उनके खाते की गोपनीयता के लिए कार्ड से ही कोड नंबर बनाने की प्रक्रिया अपनाएगी। इसमें खाता धारक के उंगलियों के निशान को सिक्योर किया जाएगा। इसके अलावा जिस खाता धारक को घर पहुंच क्रेडिट-डेबिट की सुविधा दी जाएगी। उनके पर्सनल मोबाइल नंबर से भी उपभोक्ता की जानकारी जांची जाएगी। मुख्य डाकघरों और अन्य शाखाओं में खोले गए इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक में अब तक हजारों लोग जुड़े हैं। अगर क्यू-ए नंबर के आधार पर यह सुविधा मिलेगी तो ज्यादा ग्राहक इसका फायदा ले सकेंगे।

अक्टूबर तक टोल-फ्री नंबर होगा जारी

केन्द्र से मिले निर्देश के बाद लोगों को घर पहुंच नकदी भुगतान की सुविधा देने का प्रोसेस जल्द ही शुरू किया जाएगा। अभी टोल फ्री नंबर जारी किए गए हैं। ग्राहकों को क्यू-ए नंबर आधारित कार्ड दिए जाएंगे। ताकि ग्राहक लाभान्वित हों। 

एसएन मित्रा, प्रधान डाकपाल, प्रधान डाकघर, बोकारो।

Click to listen..