रघुवर दास : मिलावटी हानिकारक होगा, इसलिए खांटी यानी मजबूत भाजपा की सरकार लाएं।

Bokaro News - ये राजनीति है...यहां बेमकसद बात नहीं होती

Nov 21, 2019, 06:15 AM IST
Bermo News - raghuvar das adulteration will be harmful so bring a khanty a strong bjp government
ये राजनीति है...यहां बेमकसद बात नहीं होती

रघुवर दास : मिलावटी हानिकारक होगा, इसलिए खांटी यानी मजबूत भाजपा की सरकार लाएं।

मायने क्या : बेरमो प्रत्याशी के प्रचार में सीएम ने फिर मिलावटी जुमले का इस्तेमाल किया। बातों में महाराष्ट्र और हरियाणा का सबक और पूर्ण बहुमत की आस झलकती है।

दल बढ़ा रहे हैं दावा
अबकी बार...सत्ता के दावेदार अपार




भास्कर न्यूज | रांची

राजनीति में विकल्पों की कमी नहीं होती। नेता एक पार्टी से टिकट न मिलने पर तुरंत दूसरी पार्टी में कूदने में हिचकते नहीं हैं। मगर इस चुनाव की एक खास बात ये है कि मतदाता के सामने भी विकल्पों की कमी नहीं होगी। मोदी लहर के चलते पिछले विधानसभा चुनाव और लोकसभा चुनाव में दो बड़े गठबंधनों में टकराव यानी द्वि-दलीय चुनाव जैसी स्थिति पैदा कर दी थी। मगर पिछले एक साल के दौरान हुए पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों ने झारखंड के राजनीतिक दलों को भी फिर अपने दम पर जमीन तलाशने की कोशिश पर मजबूर कर दिया है। सत्ता और विपक्ष दोनों ही खेमों के गठबंधनों में दरार के कारण इस बार चुनाव में कई पार्टियों ने अपनी दावेदारी बढ़ाई है। आजसू ने 2014 में भाजपा के साथ गठबंधन में रहते हुए 8 सीटों पर प्रत्याशी उतारे थे। इस बार गठबंधन से अलग रहते हुए अब तक 27 प्रत्याशी उतार चुकी है। माना जा रहा है कि पार्टी 30 तक प्रत्याशी उतारेगी। भाजपा ने भी 2014 के 72 के मुकाबले इस बार 79 प्रत्याशी उतारने की घोषणा की है, जबकि हुसैनाबाद में वह बतौर निर्दलीय उतरे अपने ही नेता का समर्थन कर रही है। वहीं झाविमो ने भी इस बार सभी 81 सीटों पर लड़ने की घोषणा की है, हालांकि अभी तक 60 ही प्रत्याशियों की घोषणा की गई है। जाने-माने दलों के अलावा छोटे क्षेत्रीय दल के प्रत्याशियों और निर्दलीयों की संख्या भी चुनाव मैदान में अच्छी-खासी है।

2014 का हाल

पार्टी लड़े जीते सक्सेस रेट दावा घोषित

भाजपा 72 37 51.3% 79 79

आजसू 08 05 62.5% 30 27

कांग्रेस 62 06 9.6% 31 29

झामुमो 79 19 24.05% 43 28

राजद 19 00 00 07 07

झाविमो 73 08 10.95% 81 60

2005

1390

प्रत्याशी

2009

1491

प्रत्याशी

2014

1136

प्रत्याशी

और इस बार

भाजपा-आजसू दोनों को दिखा अकेले लड़ने में फायदा



झाविमो ने लोकसभा चुनाव से सबक लेकर पकड़ी अपनी राह

झाविमो लोकसभा चुनाव के दौरान विपक्षी महागठबंधन का हिस्सा था। मगर गठबंधन में रहते हुए पार्टी को दो ही सीटें मिली। पार्टी न सिर्फ दोनों पर हार गई, बल्कि पिछले चुनावों के मुकाबले उसका वोट शेयर भी घट गया। 2014 के विधानसभा चुनाव में झाविमो 73 सीट पर लड़ा था, 8 जीती थीं। पार्टी का वोट शेयर 10.16% रहा था। इस बार 81 सीटों पर लड़कर वोट शेयर बढ़ाने की जुगत में है।

कांग्रेस घटते तो झामुमो अटके वोट शेयर से परेशान होकर साथ

2009 विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने 61 सीटों पर लड़कर 14 जीती थीं। वोट शेयर 16.16% था। ये कांग्रेस का विधानसभा चुनावों में श्रेष्ठतम प्रदर्शन था। 2014 में कांग्रेस ने 62 सीटों पर चुनाव लड़ा, मगर सिर्फ 6 जीती। वोट शेयर भी घटकर 10.64% रह गया। कांग्रेस अब गठबंधन के जरिये सत्ता की जुगत में है। वहीं झामुमो ने 2009 में 78 सीटों पर लड़कर 18 पर जीत हासिल की थी, जबकि 2014 में 79 पर लड़ी, वोट शेयर भी 5% बढ़ा। मगर जीत का आंकड़ा 19 तक ही पहुंचा।

छोटे दल भी इस बार उत्साह में

इस बार आम आदमी पार्टी ने पहली बार 30 सीटों पर लड़ने की घोषणा की है। वहीं चार वाम दल भी कुल 53 सीटों पर चुनाव लड़ रहे हैं। असदद्दुदीन अोवैसी की पार्टी भी राज्य में 12 सीटों पर चुनाव लड़ने की घोषणा कर चुकी है। हालांकि उसके अब तक घोषित 11 प्रत्याशियों में से 2 का पर्चा रद्द हो गया है। तृणमूल कांग्रेस भी 2014 की 10 सीटों के बजाय 40 सीटों पर लड़ेगी। एनडीए के सहयोगी जद-यू और लोजपा झारखंड में अलग चुनाव लड़ रहे हैं। जद-यू ने 81 तो लोजपा ने 50 सीटों पर लड़ने की घोषणा की है।

Bermo News - raghuvar das adulteration will be harmful so bring a khanty a strong bjp government
Bermo News - raghuvar das adulteration will be harmful so bring a khanty a strong bjp government
X
Bermo News - raghuvar das adulteration will be harmful so bring a khanty a strong bjp government
Bermo News - raghuvar das adulteration will be harmful so bring a khanty a strong bjp government
Bermo News - raghuvar das adulteration will be harmful so bring a khanty a strong bjp government
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना